पीएम मोदी ने मंत्रीपरिषद की बैठक में मंत्रियों को दिए हैं ये निर्देश !

देश में कोरोना से मचे हाहाकार के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अब खुद संभाल ली है और के एक के बाद एक बड़े फैसले ले रहे हैं. कोरोना के बढ़ते कहर के बीच पीएम मोदी ने शुक्रवार को मंत्री परिषद की बैठक बुलाई थी. देश में कोरोना की दूसरी लहर ने हर तरफ तांडव मचा रखा है, जिसके चलते केंद्र सरकार की यह पहली मंत्रीपरिषद की बैठक थी.

जानकारी के लिए बता दें पीएम मोदी की इस बैठक को लेकर कई तरह के कयास लगाये जा रहे थे कि वो बैठक के बाद बड़ा फैसला ले सकते हैं. बैठक की अध्यक्षता खुद पीएम मोदी ने की. बैठक में मंत्री परिषद ने ये बात मानी है कि वर्तमान आपदा सदी में एक बार आती है और इसने दुनिया के ऊपर बड़ा संकट डाला है. वहीँ पीएम मोदी ने कहा है कि सरकार के सभी हथियार एकजुट होकर तेजी से काम कर रहे हैं ताकि स्थिति का मुकाबला किया जा सके.

पीएम मोदी ने मंत्रीपरिषद की इस बैठक में मंत्रियों को निर्देश दिए हैं कि वो अपने संबंधित क्षेत्रों के लोगों के साथ संपर्क में रहें उनकी मदद करे साथ ही उनका फीडबैक लें. देश में एक साथ अचानक से कोरोना संक्रमण इतना तेजी से फैलने लगेगा ऐसा किसी ने सोचा भी नहीं होगा. अब ऐसा कोई दिन नहीं जा रहा है कि जिस दिन तीन लाख से ज्यादा नए मामले सामने नहीं आ रहे हों.

गौरतलब है कि पीएम मोदी ने मंत्रीपरिषद की बैठक में इस बात पर जोर दिया कि स्थानीय स्तर पर मुद्दों की पहचान कर उन्हें तुरंत सुलझाने की जरुरत है. इसी के साथ इस बैठक में पिछले 14 महीनों में इस देश के लोगों के लिए केंद्र और राज्य सरकार की तरफ से उठाये गये कदमों की भी समीक्षा की गयी. साथ पीएम मोदी ने केंद्र सरकार द्वारा अस्पतालों ने बेड्स बढ़ाने, ऑक्सीजन सुविधा और उसके उत्पादन के साथ ट्रांसपोर्टेशन से लेकर आवश्यक दवाओं की उपलब्धता के बारे में जानकारी दी.