महिला पुलिसकर्मी बनी नजीर, अज्ञात महिला के शव को दी मुखाग्नि

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मथुरा। थाना कोसीकलां में तैनात एक महिला सिपाही ने एक अज्ञात महिला के शव का अंतिम संस्कार कर एक नजीर पेश की है। दो दिन तक इंतजार के बाद जब मृत महिला की शिनाख्त नहीं हो सकी तो महिला पुलिसकर्मी ने पोस्टमार्टम होने के बाद मृतका के शव का मथुरा के बंगाली घाट पर विधिवत रूप से मुखाग्नि देकर अंतिम संस्कार किया।
यह भी पढ़ें—

हाईटेंशन लाइन की चपेट में आई दिल्ली जा रही यात्रियों से भरी प्राइवेट बस, एमबीए छात्र की मौत

नेक काम के लिए मिल रही वाह वाही
दरअसल जिले के कोसीकलां थाने में तैनात महिला कांस्टेबल शालिनी महिला हेल्पलाइन पर अपनी फरियाद लेकर थाने आने वाली महिलाओं की शिकायत सुनकर उनकी मदद करती है। अपने शालीन व्यवहार के चलते महिला फरियादियों पर शालिनी ने अलग ही छाप छोड़ी है। अब शालिनी अपने एक नेक काम के लिए सोशल मीडिया पर खूब वाहवाही बटोर रही हैं। बताया गया है कि 12 अप्रैल को शाहपुर चौकी क्षेत्र में रजवाह में एक महिला का शव मिला। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मृतका के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। पोस्टमार्टम होने के बाद भी जब 2 दिनों तक मृतका की शिनाख्त नहीं हुई तो शालिनी ने अपना कर्तव्य निभाते हुए बंगाली घाट शमशान स्थल पर मृतका का विधिवत रूप से अंतिम संस्कार कराया। इतना ही नहीं शालिनी ने मृत महिला को चिता को मुखाग्नि भी दी। महिला पुलिसकर्मी द्वारा अज्ञात महिला के शव का अंतिम संस्कार किए जाने की चर्चा अब पूरे पुलिस विभाग में हो रही है। वहीं इस वाकये को लेकर जब शालिनी से बात की गई तो उसके बताया कि आज के समय में जितना हक पुरुषों का है उतना ही महिला को भी है। जिस माता-पिता के पुत्र नहीं होता तो क्या उसका अंतिम संस्कार उसकी पुत्री नहीं कर सकती।


By - निर्मल राजपूत