अयोध्या प्रवेश पूर्व श्रीराम की जीवनी के दर्शन कर लेंगे श्रद्धालु, सज रहीं बाईपास की दीवारें

अयोध्या. राम मंदिर निर्माण के साथ-साथ पूरे अयोध्या को राममय बनाने की तैयारी चल रही है। नई योजना में अयोध्या में प्रवेश करने से पहले ही हाइवे के दोनों तरफ भगवान राम की कथा (Shriram khata) को चित्रों के माध्यम से उकेरा जाएगा। बाल कांड से लेकर लव-कुश कांड तक सभी प्रसंगों को चित्रों के माध्यम से पर्यटकों और श्रद्धालुओं को मन में स्थापित कर दिया जाएगा। बनारस से फाइन आर्ट के लगभग 12 छात्रों की टीम इस काम को अंजाम दे रही है। छात्र के चेहरे भी कोरोना काल में मिले मनपसंद काम की वजह से खिले हुए हैं।

कब बनेगी धन्नीपुर मस्जिद: राम मंदिर का निर्माण With Mahendra Pratap Singh

अयोध्या को राममय बनाने की तैयारियां :- अयोध्या शहर में बने हाईवे सहादतगंज से लेकर देवकाली ओवर ब्रिज की वॉल (Shriram khata Highway Sahadatganj Devakali ) पर रामकथा के आकर्षक चित्र बनाए जा रहे हैं। जिसमें राम की जीवनी को दर्शाया जा रहा है। अयोध्या नगरी को राममय बनाने की तैयारियां पूरे जोर-शोर के साथ हो रहा है।

एनएचएआई 48 लाख रुपए करेगी खर्च :- रामगाथा को चित्रों के मध्यम से परोसने के लिए बनारस के फाइन आर्ट (Banaras Fine art) करीब 12 छात्रों को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है। इस पर आए खर्चे को नेशनल हाईवे इंडिया वहन कर रहा है। इसके लिए एनएचआई 48 लाख रुपए खर्च करेगी। यह रकम फाइन आर्ट के छात्रों को मिलेगी। कोरोना में मनपसंद काम और पैसे मिलने से छात्र भी बहुत खुश हैं।

अभी तक बाल कांड का हुआ चित्रण :- आर्ट अटैक कलर्स ऑफ जॉय कम्पनी के सीओ सदस्य सिद्धांत श्रीवास्तव की अगुवाई में भगवान श्री राम के रामकथा का चित्रण किया जाएगा। इसमें बाल कांड, की गाथा का चित्रण किया गया है। बाकी कांड किष्किंधा, अरण्यकांड, सुंदरकांड के चरित्र का चित्रण बाकी है। यह बाद में होगा।

गौरतलब है कि 21 अप्रैल श्री रामनवमी तक इस काम को पूरा किया जाना था। लेकिन कोरोना महामारी के चलते काम की गति कम हो गई।

और सुंदर बनाएंगे :- फाइन आर्ट के स्टूडेंट्स का कहना है कि, काफी अच्छा लग रहा है। वे अयोध्या को और भी सुंदर बनाने में मदद करेंगे। अभी तक उन्हें कोई दिक्कत नहीं आई है।