उत्तर प्रदेश के सभी शिक्षक-शिक्षा मित्र और दूसरा स्टाफ करेगा वर्क फ्रॉम होम, सरकार ने छुट्टी का किया ऐलान

लखनऊ. UP Teachers Shiksha Mitra other staff Work From Home: पूरे उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण की तेज रफ्तार को देखते हुए बेसिक शिक्षा विभाग के शिक्षकों और दूसरे स्टाफ के लिए योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। बेसिक शिक्षा परिषद ने अपने सभी शिक्षकों, शिक्षा मित्रों और अनुदेशकों को स्कूल आने से मुक्ति प्रदान कर दी है। योगी सरकार में बेसिक शिक्षा मंत्री डॉ. सतीश द्विवेदी ने इसको लेकर अपने एक ट्वीट के माध्यम से जानकारी दी है। बेसिक शिक्षा मंत्री डॉ. सतीश द्विवेदी ने ट्वीट करते हुए कहा है कि प्रदेश के सभी शिक्षक और शिक्षा मित्र या अनुदेशक अपने घर से काम कर सकेंगे। बेसिक शिक्षा विभाग के सभी शिक्षकों और शिक्षा मित्रों या अनुदेशकों को वर्क फ्राम होम की सुविधा मिलेगी।

शिक्षक-शिक्षामित्र और दूसरे स्टाफ की छुट्टी

दरअसल उत्तर प्रदेश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का संक्रमण काफी तेजी से बढ़ रहा है। रोजाना रिकॉर्डतोड़ कोरोना के नये केस सामने आ रहे हैं। जबकि सैकड़ों लोग मर रहे हैं। इस बीच इलाहाबाद हाईकोर्ट ने भी प्रदेश की योगी सरकार को कोविड प्रभावित 5 शहरों में लॉकडाउन का आदेश दिया था। हालांकि सरकार ने उच्च न्यायालय के आदेश नहीं माना है। साथ ही यह साफ कर दिया है कि यूपी में फिलहाल कोई लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा। लेकिन इस बीच बेसिक शिक्षा मंत्री डॉ. सतीश द्विवेदी के इस ऐलान से यूपी के सभी शिक्षकों, शिक्षा मित्रों और अनुदेशकों ने राहत की सांस ली है।

सभी कर सकेंगे वर्क फ्रॉम होम

यूपी के बेसिक शिक्षा मंत्री डॉ. सतीश द्विवेदी ने अपने ट्वीट में कहा है कि कोविड-19 की वर्तमान परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए बेसिक शिक्षा परिषद, उत्तर प्रदेश के सभी शिक्षकों, शिक्षामित्रों और अनुदेशकों को घर से कार्य करने (Work from Home) की सुविधा दी जाएगी। आपको बता दें कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए पहले ही लगभग सभी परीक्षाओं को स्थगित करने का सरकार ने फैसला किया है। इसके बाद स्कूल में कार्यरत शिक्षकों और अन्य स्टाफ को वर्क फ्रॉम होम की सुविधा देने से संक्रमण की चेन तोड़ने में आसानी होगी। क्योंकि शिक्षकों और दूसरे स्टाफ के स्कूल जाने पर संक्रमण के बढ़ने की संभावना काफी ज्यादा हो जाती है।

यह भी पढ़ें: स्कूल बंद होने का असर, जो सीखा था वह भी भूल गए, नया सीखने में दिक्कत, कैसे देंगे परीक्षा