Coronavirus : अचानक बढ़े कोरोना से मौत के मामले, गाजियाबाद में श्मशान घाट पर लागू हुआ टोकन सिस्टम

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
गाजियाबाद. दिल्ली से सटे गाजियाबाद में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। इसे फैलने से रोकने के उद्देश्य से अब गाजियाबाद के हिंडन नदी स्थित श्मशान घाट (Hindon Crematorium) पर भी सावधानी बरतते हुए टोकन सिस्टम (Token system) लागू कर दिया गया है। इतना ही नहीं कोरोना से मौत (Coronavirus Deaths) होने पर अंतिम संस्कार के लिए अलग से व्यवस्था की गई है। इलेक्ट्रिक मशीन से उनका अंतिम संस्कार अलग ही कराया जा रहा है। जबकि अन्य तरह से मौत होने पर लोगों के अंतिम संस्कार के लिए टोकन की व्यवस्था है।

यह भी पढ़ें- Corona effect : शादियों पर फिर से लगा कोरोना का ग्रहण, छोटी होने लगी मेहमानों की लिस्ट

गाजियाबाद में हिंडन नदी के तट पर स्थित श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार कराने वाले आचार्य मनीष पंडित ने बताया कि जिस तरह से एकाएक कोविड-19 संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। उसे देखते हुए इससे बचाव के लिए श्मशान घाट पर भी तमाम तरह के उपाय किए जा रहे हैं। श्मशान पर आने वाले लोगों को सैनिटाइज किया जा रहा है। वहीं मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का भी पूरी तरह से पालन किया जा रहा है। वहीं, अंतिम संस्कार में आने वाले लोगों से अपील की जा रही है कि कम से कम संख्या में अंतिम संस्कार में शामिल हों।

उन्होंने बताया कि अब कोरोना से मरने वाले लोगों के अंतिम संस्कार के लिए अलग से इलेक्ट्रिक मशीन की व्यवस्था की गई है, जो कि नॉर्मल श्मशान घाट से एकदम अलग है। उन्होंने बताया कि यहां सोशल डिस्टेंसिंग की पालना किए जाने के उद्देश्य से तो टोकन सिस्टम शुरू कर दिया गया है। लोगों से अपील की जा रही है कि अंतिम संस्कार में कम से कम लोग शामिल हों, ताकि इस खतरनाक बीमारी से बचा जा सके। उन्होंने बताया कि एकाएक कोरोना से मरने वाले लोगों के अंतिम संस्कार के लिए शवों की संख्या भी यहां बढ़ गई हैं। इसलिए कोविड-19 को फैलने से रोकने के उद्देश्य से श्मशान घाट पर पहले से कुछ हटकर अलग तरह की व्यवस्था की गई है।

यह भी पढ़ें- गजब: Corona वैक्सीन लगवाने गई तीन बुजुर्ग महिलाओं को लगा दिया एंटी रेबीज का टीका