Ghaziabad: रेस लगा रही तेज रफ्तार कार में लगी भीषण आग, पुलिसकर्मी ने खुद झुलसकर तीन को बचाया

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
गाजियाबाद. थाना मसूरी इलाके में नेशनल हाईवे-9 पर देर रात अचानक उस वक्त अफरा-तफरी मच गई। जब तेज रफ्तार वैगनआर कार और वरना कार आपस में टकराते पलट गई। कार पलटते ही वैगनआर कार में भीषण आग लग गई। कार में कुल 3 लोग सवार थे। जबकि एक युवक वरना कार में सवार था। गनीमत रही कि वहां मौजूद ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने सूझबूझ का परिचय देते हुए अपनी जान पर खेलकर कार में सवार तीनों लोगों को समय रहते कार से बाहर निकाल लिया। हालांकि मामूली रूप से तीनों झुलस गए। वहीं, ट्रैफिक पुलिसकर्मी खुद भी झुलस गया। मौजूद लोगों ने आनन-फानन में सभी को अस्पताल पहुंचाया।

यह भी पढ़ें- तेज रफ्तार कार ने महिला को मारी टक्कर, फिर अनियंत्रित होकर खंभे से टकराई, महिला की मौत

जानकारी के अनुसार, ग्रेटर नोएडा से पेरिफेरल एक्सप्रेसवे के रास्ते गाजियाबाद आ रही वैगनआर कार में भूरे ,जाकिर और रोबी सवार थे। जैसे ही उन्होंने अपनी कार पेरिफेरल एक्सप्रेसवे से नीचे उतरी तो दूसरी तरफ से वरना कार में सवार होकर नितिन भी आ रहा था। इसी बीच दोनों कार में आगे निकालने को लेकर होड़ लग गई और रेस लगाने लगे जैसे ही दोनों गाड़ी सुंदरदीप कॉलेज के पास पहुंची तो वह अनियंत्रित हो गई और दोनों ही गाड़ी आपस में टकराकर पलट गईं। गाड़ी पलटते ही सीएनजी की वैगनआर कार में भीषण आग लग गई और इलाके में चीख-पुकार मच गई।

गनीमत रही कि पास में ही ट्रैफिक पुलिसकर्मी अरुण ने समय रहते अपनी जान की परवाह न करते हुए वैगनआर कार सवार तीनों लोगों को समय रहते बाहर निकाल लिया। इस दौरान खुद ट्रैफिक पुलिसकर्मी अरुण झुलस गए, लेकिन सूझबूझ के चलते उन्होंने तीनों लोगों को जिंदा जलने से बचा लिया। उधर, चीख-पुकार सुनकर मौके पर पहुंचे स्थानीय लोगों ने वरना कार में सवार नितिन को भी बाहर निकाल लिया। इसके बाद स्थानीय लोगों ने चारों कार सवारों समेत पुलिसकर्मी अरूण को निजी अस्पताल में भर्ती कराया।

यह भी पढ़ें- गाजियाबाद के स्लम एरिया में लगी भीषण आग, धू-धूकर जलीं सैकड़ों झुग्गियां