जेल में बंद सस्पेंड IPS अरविंद सेन के पत्नी बनी सपा से उम्मीदवार

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
अयोध्या. पंचायत चुनाव में राजनीतिक पार्टियां गांव की सरकार बनाने के लिए स्वच्छ छवि और भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने वाले नेताओं बात करते हो। लेकिन सियासी समीकरण में सारे दावे झूठे साबित होते हैं जब सत्ता की मोह में भ्रष्ट छवि अपराधिक मामलों में लिप्त नेताओं और उनके परिजनों को टिकट देकर अपने पार्टी का चेहरा बनाने से नहीं चूकते है। ऐसा ही एक मामला अयोध्या में भी दिखा जब समाजवादी पार्टी के द्वारा भ्रष्टाचार के आरोप में महीनों तक फरार रहने के बाद आज जेल में बंद निलंबित आईपीएस अरविंद सिंह की पत्नी प्रियंका सेन को जिला पंचायत सदस्य का टिकट दिया है।

अयोध्या जनपद में पंचायत चुनाव में समाजवादी पार्टी के द्वारा दिए गए टिकट में परिवारवाद का मामला भी सामने रहा है दरअसल समाजवादी पार्टी के दबंग नेता रहे पूर्व सांसद मित्रसेन यादव के परिवार से देवरानी और जेठानी को भी टिकट देकर उम्मीदवारी घोषित कर दिया है। जिसमें पापा सरकार के कद्दावर नेता आनंद सेन यादव की पत्नी इंद्रसेन यादव को हैर्टिंगनज तृतीय तो वहीं भ्रष्टाचार के मामले में जेल में बंद निलंबित आईपीएस अधिकारी अरविंद सेन यादव की पत्नी प्रियंका सेन हैर्टिंगनज प्रथम से उम्मीदवार बनाया है।