Panchayat Election 2021: पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय के बेटे समेत 11 भाजपा नेताओं पर गिरी हाईकमान की गाज

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
हाथरस. पंचायत चुनाव से पहले भाजपा ने पार्टी प्रत्याशियों के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय के बेटे चिराग वीर और डॉ. अविन शर्मा समेत 11 नेताओं को निष्कासित कर दिया है। भाजपा ने 24 वार्ड से अपने प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतारे हैं। बताया जा रहा है कि भाजपा के नेता ही खुद अपनी पार्टी के प्रत्याशियों के विरूद्ध चुनाव मैदान में आ गए तो कुछ ने भाजपा प्रत्याशियों के खिलाफ चुनाव प्रचार करना शुरू कर दिया था। मामला हाईकमान के पास पहुंचने के बाद भाजपा के जिलाध्यक्ष गौरव आर्य ने चिराग वीर उपाध्याय समेत पार्टी के 11 नेताओं को पार्टी से बाहर कर दिया।

यह भी पढ़ें- यूपी पंचायत चुनावः प्रथम चरण का मतदान, यह लोग नहीं कर पाएंगे वोट

बता दें कि जिला पंचायत के वार्ड संख्या 14 से भाजपा ने पूर्व विधायक मुकुल उपाध्याय की पत्नी ऋतु उपाध्याय को चुनाव मैदान में उतारा है। जबकि इसी वार्ड से पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय की पत्नी सीमा उपाध्याय निर्दलीय चुनाव लड़ रही हैं। इसी तरह भाजपा नेता डॉ. अविन शर्मा ने भी अपनी पत्नी को वार्ड 14 से ही निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में उतारा है। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए भाजपा ने पार्टी प्रत्याशियों के खिलाफ चुनाव लड़ने और विरोध करने को लेकर निर्दलीय सीमा उपाध्याय के बेटे चिराग वीर उपाध्याय, डॉ. अविन शर्मा और उनकी पत्नी क्षमा शर्मा काे पार्टी से निष्कासित कर दिया है।

इसके साथ ही वार्ड नंबर-1 से भाजपा के नेता देवदत्त को भी पार्टी से निकाला गया है। भाजपा जिलाध्यक्ष गौरव आर्य का कहना है कि ब्रज क्षेत्र अध्यक्ष रजनीकांत माहेश्वरी के आदेश पर यह कार्रवाई की गई है। भाजपा के अधिकृत उम्मीदवारों के खिलाफ चुनाव लड़ने और उनका विरोध करने पर आगे भी इसी तरह कार्रवाई होगी। फिलहाल चिराग वीर उपाध्याय, डॉ. अविन शर्मा, क्षमा शर्मा के अलावा देवदत्त, चन्दवीर सिंह, कृष्णा सिसौदिया, रिंकू जादौन, रानू जादौन, गीता देवी और सोमेश यादव को निष्कासित किया गया है।

यह भी पढ़ें- Panchayat Election Poll: यूपी में पहले चरण का मतदान शुरू, 18 जिलों में हो रही है वोटिंग