कोरोना संकट में भारत, USISPF का दावा ‘कोरोना की लड़ाई में चीन बड़ी बाधा,रोक रहा मेडिकल सप्लाई’

भारत में कोरोना की दूसरी लहर से हाहाकार मचा हुआ है. स्थिति इतनी ज्यादा भयंकर हो चुकी है कि हालातों पर काबू पाना बेहद मुश्किल हो गया है. दिन पर दिन बढ़ते लाखो की संख्या में कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ रहे है. वही देश में मौत का कुल आंकड़ा भी 2 लाख से पार पहुँच गया है.

इन्ही सब बातों के बीच एक बड़ी जानकारी सामने आ रही है. जानकारी के लिए बता दें कि अमेरिका के व्यापारी समूह USISPF के सीईओ मुकेश अघी ने सहयोगी एक न्यूज़ चैनल से बात करते हुए कहा कि उनकी तरफ भारत को एक लाख ऑक्सीजन कंसंट्रेटर दिए जाएंगे. इतना ही नहीं सिर्फ मई के अंत तक USISPF की तरफ से भारत को 31000 हजार ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मिल जाएंगे.

इसके अलावा उन्होंने ये भी कहा कि अमेरिका भारत के साथ हर कदम पर खड़ा है लेकिन उन्होंने इस बात पर भी जोर देते हुए कहा कि पूरी दुनिया भारत की मदद तो करना चाहती है, लेकिन चीन उसमें बड़ी बाधा बन रहा है. दरअसल उन्होंने इस बात को भी कहा कि USISPF के द्वारा भेजे गए एक शिपमेंट को चीन की तरफ से रोक दिया गया था और उस समय दलील दी गयी थी कि चीन की तरफ से भारत के साथ कार्गो एयरक्राफ्ट पर रोक लगा रखी थी और चीन के इसी बर्ताव की वजह से भारत के पास समय पर कई मेडिकल वस्तुओं की सप्लाई नहीं हो पाई. जाहिर है कि आज भारत कोरोना के कहर से बुरी तरह जूझ रहा है. जिस तरफ भी देखो उधर सिर्फ तबाही की ही तस्वीरे देखने को मिल रही है.