क्या आप जानते है केबीसी-13 के पहले सवाल का जवाब, जो जगा सकता है आपकी सोई किस्मत

क्या आप जानते है केबीसी-13 का पहला सवाल जो जगा सकता है आपकी सोई किस्मत

क्या आप जानते है केबीसी-13 का पहला सवाल जो जगा सकता है आपकी सोई किस्मत

सोनी टीवी का मोस्ट अवेटेड क्विज शो कौन बनेगा करोड़पति (Kaun Banega Crorepati) एक बार फिर धूम मचाने को तैयार है। इस शो आम लोगो द्वारा खूब पसंद किया जाता है। इस शो को अमिताभ बच्चन (Amitabh bachchan) होस्ट करते है। हर सीजन में इस शो के जरिए बहुत से लोगो को अपने सपनो को पूरा करने का मौका मिलता है। देश में फैली कोरोना महामारी के बीच एक बार फिर से सोनी टीवी पर केबीसी 13 (KBC 13) शुरू होने जा रहा है। और फिर से इस शो के फैंस को हॉटसीट पर बैठने का मौका मिलने वाला है।

शो में हिस्सा लेने के लिए रजिस्ट्रेशन की शुरुआत 10 मई को रात 9 बजे से हो गई है। तो वहीं सीनियर बच्चन ने लोगों के सामने  कौन बनेगा करोड़पति के सीजन 13 के लिए पहला सवाल पेश कर दिया है। अमिताभ की तरफ से पूछा गया पहला सवाल केबीसी-13 के रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया का हिस्सा है। दर्शको का साल भर का इंतजार अब खत्म हो चुका है। क्विज शो के होस्ट अमिताभ ने पहले सवाल को पूछा लिया है। तो आइये आपको बताते है शो के रजिस्ट्रेशन के लिए पूछा गया पहला सवाल क्या है। केबीसी का पहला सवाल पराक्रम दिवस से जुड़ा हुआ है।

अमिताभ बच्चन ने सवाल किया है कि- किसकी जयंती के सम्मान में 23 जनवरी को भारत सरकार ने पराक्रम दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया है?

जिसके ऑप्शन है

A. शहीद भगत सिंह

B. नेता जी सुभाष चंद्र बोस

C. चंद्रशेखर आज़ाद

D. मंगल पांडे

जैसा की हर सवाल में होता है अमिताभ ने इस सवाल को अंग्रेजी में दोहराया है। आपको इस सवाल का सही जवाब बता दें, तो सही जवाब है, B. नेता जी सुभाष चंद्र बोस।

अगर आप भी इस शो में हिस्सा लेना चाहते है तो आपको Sonyliv वेबसाइट या ऐप पर जाकर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही केबीसी की टीम इनमें से कुछ प्रतियोगियों को शॉर्ट लिस्ट करेगी और फिर अलग-अलग शहरों में ऑडिशन भी किए जाएंगे। आपको बता दें कि कौन बनेगा करोड़पति के पिछले सीजन में यानी की केबीसी-12 में 4 करोड़पति बने थे। जिसमें कोविड-19 फ्रंटलाइन योद्धा डॉक्टर नेहा शाह,अनूपा दास, आईपीएस ऑफिसर मोहिता शर्मा और नाजिया नसीम ने 1 करोड़ी की धन राशि अपने नाम की थी।