सरकार द्वारा समर्थित इस ऐप ने फंडिंग के जरिए जुटाए 218 करोड़ रुपये, Twitter को दी टक्कर

कू ऐप

कू ऐप

नई दिल्ली। Twitter की बढ़ती लोकप्रियता के बारे में तो आप ने सुना ही होगा। देश में ही ट्विटर यूजर्स की संख्या करोड़ों में है। मगर अब एक नई ऐप ने Twitter की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। भारत में ट्विटर को टक्कर देने कू ऐप (Koo App) की भी लोकप्रियता बढ़ती जा रही है। Koo ने टाइगर ग्लोबल के नेतृत्व में सीरीज बी फंडिंग के जरिए 30 मिलियन डॉलर (लगभग 218 करोड़ रुपये) जुटाए हैं। Koo ने एक बयान में कहा कि फंडिंग के ताजा दौर में मौजूदा निवेशकों एक्सेल पार्टनर्स, कलारी कैपिटल, ब्लूम वेंचर्स और ड्रीम इनक्यूबेटर ने भी हिस्सा लिया। इसके अलावा नए निवेशकों के तौर पर आईआईएफएल और मिराए एसेट्स सामने आए हैं। कू के को-फाउंडर और सीईओ, अप्रमेय राधाकृष्ण ने कहा कि अगले कुछ वर्षों में हमारी दुनिया के सबसे बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म में से एक में विकसित होने की आक्रामक योजना है। हर भारतीय हमें वहां जल्द पहुंचने के लिए उत्साहित कर रहा है। इस सपने को साकार करने के लिए टाइगर ग्लोबल सही भागीदार है।

अब तक करीब 60 लाख हैं यूजर्स

गौरतलब है कि यह निवेश ऐसे वक्त में जुटाया गया है, जब देश में नए आईटी मध्यस्थ नियमों के प्रभावी होने से Twitter और Facebook सहित Social Media Companies के लिए जवाबदेही बढ़ी है। कू के करीब 60 लाख यूजर्स हैं। Koo ने पिछले हफ्ते कहा था कि उसने नए नियमों को लागू किया है और उसकी गोपनीयता नीति, उपयोग की शर्तें और सामुदायिक दिशानिर्देश अब नए नियमों के अनुरूप हैं।

देश की इन बड़ी हस्तियों ने कू पर बनाया अकाउंट

बता दें कि कू एक माइक्रोब्लॉगिंग साइट है जिसपर भारतीय भाषाओं में राय व्यक्त कर सकते हैं। इस प्लेटफॉर्म पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, पीयूष गोयल और स्मृति ईरानी, बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता अनुपम खेर, कंगना रनौत, ​​कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ, जेडीएस सुप्रीमो और पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा, एनसीपी की सुप्रिया सुले, भीम आर्मी के चंद्रशेखर आजाद, जेडीयू से उपेंद्र कुशवाहा, आप से राजेंद्र पाल गौतम, साइना नेहवाल, भाईचुंग भूटिया, जवागल श्रीनाथ, मैरी कॉम, दीपक हुड्डा सहित कई अन्य खेल हस्तियों ने भी अकाउंट क्रिएट किया है।