राजद नेताओं के साथ वर्चुअल मीटिंग कर रहे लालू यादव बोल पाए सिर्फ 3 मिनट तभी बिगड़ गयी तबियत, जिसके बाद..

देश के बड़े घोटालों में से एक चारा घोटाले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमो को ज़मानत मिल गयी है. लालू यादव पिछले काफ़ी समय से जेल में बंद थे. जेल से बाहर आने के बाद लालू यादव एक्शन में हैं और नीतिश सरकार पर एक के बाद एक बड़ा हमला बोल रहे हैं.

जानकारी के लिए बता दें लालू यादव ने कुछ दिनों पहले ये ऐलान किया कि वो राजद के सभी विधायकों और नेताओं के साथ वर्चूअल मीटिंग करेंगे. रविवार को काफ़ी लंबे समय बाद लालू यादव अपनी पार्टी के नेताओं से मुख़ातिब हुए. लालू यादव अब एम्स से भी डिस्चार्ज हो गए हैं.

राजद के नेताओं ने लालू यादव को काफ़ी लंबे समय बाद सार्वजनिक जीवन रेखा में देखा गया. रविवार को दोपहर 2 बजे पार्टी के सभी विधायकों, विधान पार्षदों और वरीय नेताओं के साथ वीडियो कोंफ़्रेंस के माध्यम से रूबरू हुए. लालू यादव सभी नेताओं से बातचीत कर ही रहे थे कि बस 3 मिनट ही बोल पाए तभी अचानक से उनकी तबियत बिगड़ गयी और उनका ऑक्सीजन लेवल डाउन हो गया, जिसके बाद उन्होंने कहा तबियत ठीक होने पर आप लोगों के बीच फिर से आऊँगा.

ग़ौरतलब है कि तेजस्वी यादव ने मीटिंग से पहले ही ये कहा था कि लालू यादव की तबियत ठीक नही है वो ज़्यादा नही बोलेंगे. लालू ने राजद नेताओं से कहा कि “स्वस्थ होते ही आप लोगों के बीच में आऊंगा. आप सभी पूरी तरह से अपने गरीब लोगों की सेवा कीजिए. लाखों लोगों की मृत्यु हुई है. चारों तरफ तबाही है. ऐसे समय में आपका फर्ज बनता है कि जितना हो सके, जनता के बीच जाकर उनकी सेवा करिए। हम बीमार हैं, इस स्थिति में कहीं नहीं जा रहे हैं. जैसे ही ठीक होंगे, आप सबके बीच आएंगे.”