अपनी हरकतों से बाज नहीं आई ममता बनर्जी, पीएम मोदी की बैठक में 30 मिनट देरी से पहुंची और फिर…

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपनी हरकतों से बाज आने का नाम नही ले रही हैं. फिर से सत्ता में आने के बाद उनके रवैए में बदलाव नही हैं. अभी हाल ही में आए यास तूफ़ान से हुए प्रभावित हिस्सों का दौरा करने PM मोदी बंगाल पहुंचे. साईक्लोन यास से हुए नुक़सान के एरियल सर्वे को लेकर PM मोदी ने पहले ही घोषणा कर दी थी.

जानकारी के लिए बता दें बंगाल पहुँचने के बाद PM मोदी ने एक रिव्यू मीटिंग में हिस्सा लिया लेकिन इस दौरान उन्हें और राज्यपाल जगदीप धनखड़ को क़रीब 30 मिनट का इंतज़ार करना पड़ा क्योंकि ममता बनर्जी मीटिंग में समय से नही पहुंची.

सरकारी सूत्रों के अनुसार 30 मिनट देरी से पहुँचने के बाद ममता बनर्जी ने चक्रवात से जुड़े दस्तावेज केंद्र सरकार के अधिकारियों को सौंपे और वहां से चली गयी. उन्होंने दस्तावेजों में 20 हजार करोड़ रूपये नुकसान की बात कही है. ममता बनर्जी ये कहकर वहां से चली गयी कि उन्हें और भी मीटिंग में हिस्सा लेना है. जिसके बाद राज्यपाल ने ट्वीट किया है.

ग़ौरतलब है कि राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने ट्वीट कर कहा है कि टकराव का ये रुख़ राज्य या लोकतंत्र के हित में नही हैं.: CM और अधिकारियों द्वारा गैर-भागीदारी संवैधानिकता या कानून के शासन के अनुरूप नहीं है. इससे पहले भी कोरोना संबंधित मीटिंग में ममता बनर्जी ने हिस्सा नही लिया था. जिसके चलते भी PM मोदी ने कहा था कि कुछ लोग अपने आपके आगे किसी को कुछ समझते नही हैं.