जिस सर्किट हाउस में रूककर कमलनाथ ने देश को लेकर दिया था बयान, जानिए भाजपा ने वहां क्या किया

कमलनाथ ने देश को लेकर ये विवादित बयान देकर पार्टी की मुश्किलें खड़ी कर दी हैं. कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर कोरोना से हो रही मौतों से आंकड़े छुपाने के आरोप लगाए. वही कमलनाथ में आगे कहा कि मुझे न्यूयॉर्क से फ़ोन किया कि भारत के जो लोग टैक्सी चला रहे हैं उनकी टैक्सी में कोई नही बैठ रहा है.

कमलनाथ ने कहा था कि भारत महान नही भारत बदनाम है. सब देशों ने भारत के लोगों को अपने यहां आने पर रोक लगा दी है. अब कमलनाथ के इस बयान के बाद भाजपा लगातार हमलावर है और निशाना साधने में लगी हुई है.कैलाश विजयवर्गीय ने जवाब देते हुए कहा है कि ‘कमलनाथ जी, मेरा भारत महान था, महान है और महान ही रहेगा, लेकिन चीनी दिमाग से सोचने और इटालियन चश्मे से देखने वालों को यह नजर नहीं आएगा। आप जैसों को तो गोस्वामी तुलसीदास जी कहकर गये हैं कि ‘जाको प्रभु दारुण दुःख देही, ताकि मति पहले हर लेही।’

कमलनाथ के इस बयान के बाद उनकी मुश्किलें कम नही हो रही हैं. शुक्रवार को कमलनाथ सतना जिले के मैहर में सर्किट हाउस में कुछ देर के लिए ठहरे थे. कमलनाथ के वहां से जाने के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने वहां गंगाजल छिड़काव कर जगह को शुद्ध किया.

ग़ौरतलब है कि गंगाजल से सर्किट हाउस का छिड़काव करने के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं का कहना है कि गंगाजल छिड़कने से उस स्थान का शुद्धिकरण हो जाएगा जहां से उन्होंने देश को लेकर ऐसा बयान दिया.