महाराष्ट्र में वैक्सीन को लेकर शुरू ही राजनीति, कांग्रेस और शिवसेना में मचा घमासान

आज पूरा देश कोरोना से जंग लड़ रहा है. हर दिन लाखो की संख्या में मरीज सामने आ रहे है. वही दूसरी तरफ हजारों की संख्या में लोग अपनी जान भी गवा रहे है और इसी वजह से देश में काफी तनाव का माहौल भी देखने को मिल रहा है. कई जगहों पर पाबंदियां बढ़ा दी गयी है तो कही पर लॉकडाउन लगाया गया है जिस वजह से अब हालातों पर नियंत्रण पाना बेहद जरुरी हो गया है.

वही दूसरी तरफ वैक्सीन को लेकर भी राजनीति देखने को मिल रही है. इसी बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है. जानकारी के लिए बता दें कि जीशान सिद्धकी ने ट्वीट कर कहा था कि “सब जगह लॉकडाऊन है. लोगों को खाना नहीं मिल रहा है. ऐसे मे क्या शिवसेना के लिए कोई नियम नहीं हैं? शिवसेना दिखाती है जैसे कि यह एक त्योहार है. बड़े बैनर लगाए जा रहे हैं. मानो मेला भरा हुआ है. शिवसेना ऐसे बरताव कर रही है जैसे कि वैक्सीन उन्होंने ही बनाया है. यह महाविकास आघाडी सरकार का काम है.” इतना ही नहीं उन्होंने शिवसेना पर आरोप लगाते हुए कहा कि शिवसेना नेता अनिल परब द्वारा समस्याएं पैदा की जा रही हैं वह इतने बड़े मंत्री हैं और उन्हे यह शोभा नही देता. मैं चुप नहीं रहूंगा लेकिन अपनी आवाज उठाता रहूंगा.

जिस पर अब किशोरी पेडनेकर और सांसद राहुल शेवाले ने कहा है कि वैक्सीन को लेकर कोई राजनीति नही की जा रही है. साथ हिन् उन्होंने ये भी कहा कि जितने भी पोस्टर लगाये जा रहे है वह नगर सेवकों के है और पोस्टर लगाये जाने का मकसद ज्यादा से ज्यादा लोगो को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करना है. जाहिर है कि बीते कुछ समय से देश में वैक्सीन को लेकर जमकर राजनीति देखने को मिल रही है.