दिल्ली में ऑक्सीजन के लिए मचे हाहाकार के बीच दिल्ली हाईकोर्ट ने केजरीवाल सरकार को लगायी फटकार, कही ये बात

कोरोना से दिल्ली में स्थिति लगातार ख़राब होती जा रही है. हालात इस कदर ख़राब हो गए है कि मरने वालों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है. वही दूसरी तरफ स्वास्थ्य व्यवस्था भी चरमरा गयी है. वही आज दिल्ली सरकार को हाईकोर्ट ने फटकार लगायी है. दरअसल कोरोना संकट को दिल्ली हाईकोर्ट में ऑक्सीजन पर सुनवाई चल रही है और सुनवाई के दौरान दिल्ली सरकार ने कहा कि सरकार राजधानी में बेड़ों की संख्या 15000 तक बढ़ाने जा रही है. लेकिन हमारे पास इन बेड्स के लिए ऑक्सीजन नहीं है.  जिस पर हाईकोर्ट ने सवाल उठाये हुए सरकार से कहा कि दिल्ली सरकार ने अबतक आर्मी, नेवी और एयरफोर्स की मदद के लिए अबतक रिक्वेस्ट क्यों नहीं की है.

पता हो कि दिल्ली में ऑक्सीजन और बेड्स की किल्लत दिन पर दिन बढ़ती जा रही है. हालात काफी बेकाबू हो गए है. वही बत्रा अस्पताल ने कोर्ट में कहा कि हम हर रोज कुछ घंटे संकट में बिता रहे हैं, ये चक्र खत्म नहीं हो रहा. साथ ही अस्पताल ने ये भी कोर्ट में कहा कि हमने एक whasapp ग्रुप पर भी ऑक्सीजन के लिए रिक्वेस्ट की, जो कल ही ऑक्सीजन सप्लायर्स, दिल्ली सरकार के अधिकारियों और अस्पतालों के प्रतिनिधियों को मिलाकर बनाया गया है लेकिन उस पर हमे रेस्पोंस मिला कि ‘अभी हमें डिस्टर्ब न करें’

जिस पर कोर्ट ने कहा कि ”आपको शांत रहने की जरूरत है, आपके लिए गुस्सा सही नहीं, आप डॉक्टर हैं, अगर आप भी  कंट्रोल खोएंगे तो बाकी लोगों का क्या होगा. सभी लोग सप्लाई चैन की बेहतरी के काम में लगे हुए हैं.”  साथ ही कोर्ट ने दिल्ली सरकार को बत्रा अस्पातल की मदद करने का निर्देश भी दिया. जाहिर है कि इस वक्त संकट की घड़ी से देश जूझ रहा है