फाइजर कंपनी से वैक्सीन लेने चले थे केजरीवाल, कंपनी ने बड़ा बड़ा झटका देते हुए जानिए क्या कहा

भारत ने कोरोना की दूसरी लहर ने जमकर हाहाकर मचाया है. कोरोना को प्रकोप को देखते हुए भारत सरकार ने देशभर में 18 साल से 44 साल के लोगों को भी वैक्सीन लगाने का ऐलान कर दिया था. केद्र सरकार के ऐलान के बाद कई राज्यों ने 18 साल से ऊपर के लोगों का वैक्सीनेशन शुरू भी किया लेकिन ये लंबे समय तक नहीं चल सका. राज्य सरकारों ने 18 साल से ऊपर के लोगों का वैक्सीनेशन ये कहकर रोक दिया कि उनके पास वैक्सीन की डोज नहीं हैं.

जानकारी के लिए बता दें वैक्सीन को और ऑक्सीजन को लेकर दिल्ली समेत कई राज्यों ने जमकर राजनीति भी की है और सारा दोष केंद्र सरकार पर मडा है. वहीँ ऐसे में वैक्सीन की कमी को लेकर कई राज्य सरकारों ने विदेशों से टीका मंगवाने के लिए टेंडर निकाले थे, उसमें से एक दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी थे. उन्होंने फाइजर कंपनी से वैक्सीन मांगी थी. कंपनी ने भी केजरीवाल को दो टूक जवाब दिया है.

वैक्सीन निर्माता कंपनी फाइजर ने केजरीवाल को वैक्सीन देने से मना कर दिया है. कंपनी ने दो टूक जवाब देते हुए साफ़ कहा है कि वो सिर्फ और सिर्फ केंद्र सरकार और राष्ट्रीय संगठनों को ही वैक्सीन मुहैया करवाएगी. अब केजरीवाल को जब कंपनी की तरफ से मुह की खानी पड़ी है तो उन्होंने केंद्र सरकार को इस बात की जानकारी दी है और सरकार से टीके देने की अपील की है.

गौरतलब है कि वैक्सीन निर्माता कंपनी फाइजर ने कहा ”भारत सरकार के साथ फाइजर की चर्चा चल रही है और हम भारत में इस्तेमाल के लिए फाइजर-बायोएनटेक की कोविड-19 वैक्सीन लाने के लिए आशान्वित हैं.” कंपनी ने आगे कहा, ”फाइजर राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रमों के लिए केवल केंद्र सरकारों और सुपर-नेशनल संगठनों को ही कोविड की वैक्सीन की आपूर्ति करेगा. एक देश में खुराक और कार्यान्वयन योजना का आवंटन स्थानीय सरकारों के लिए प्रासंगिक हेल्थ अथॉरिटी के आधार पर एक ही है.’