वैक्सीन की किल्लत को दूर करने के लिए केजरीवाल सरकार ने जारी किया ग्लोबल टेंडर

देश में भले ही कोरोना का खतरा कम नहीं हुआ है लेकिन कुछ राज्यों में अब कोरोना के बढ़ते मामलों में गिरावट आने लगी है और साथ ही रिकवरी रेट भी बढ़ने लगा है. जिस वजह से लोगो को थोड़ी सी राहत दिए जाने का फैसला कई राज्य सरकारें ले रही है. वही दूसरी तरफ बता दें कि दिल्ली में भी कोरोना की बढ़ती रफ़्तार अब थमने लगी है और इसी वजह से हालातों को देखते हुए केजरीवाल सरकार ने अनलॉक प्रक्रिया शुरू करने का फैसला लिया है.

इसके अलावा दिल्ली में वैक्सीन की किल्लत को कम करने के लिए केजरीवाल सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है. जानकारी के लिए बता दें कि दिल्ली सरकार ने भी टीका खरीद का ग्लोबल टेंडर जारी कर दिया है. दरअसल दिल्ली को पर्याप्त मात्रा में कोरोना वैक्सीन मिल सके. इसके लिए केजरीवाल सरकार ने वैश्विक वैक्सीन मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों से 1 करोड़ डोज के लिए टेंडर जारी किया है. जिसके लिए आखिरी तारीख 7 जून निर्धारित की गई है.

इसके अलावा बता दें कि टेंडर में हिस्सा लेने वाली वैक्सीन कंपनियों के लिए कुछ शर्तें भी तय की गई हैं. जिसके तहत केवल उन्हीं कंपनियों की वैक्सीन ली जाएगी. जिनके टीके को ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DGCI) द्वारा मान्यता दी गई होगी. साथ ही अपने प्रपोजल में बिडर को यह भी जानकारी देनी होगी कि वैक्सीन की सप्लाई आर्डर जारी होने की तारीख के पहले 7 दिन, 8-15 दिन, 16-23 दिन, 24-31 दिन और 31-45 दिन के भीतर वो कितनी डोज़ दिल्ली को आपूर्ति करेंगे. जाहिर है कि देश में 18 से अधिक उम्र वालों के लिए वैक्सीनेशन शुरू हो चुका है लेकिन वैक्सीन की किल्लत के कारण वैक्सीनेशन की गति धीमी हो गयी है और इसी वजह से दिल्ली में वैक्सीन की कमी को पूरा करने के लिए केजरीवाल सरकार ने ये फैसला लिया है.