अमिताभ बच्चन को कठिन परिस्थितियों में आई बाबू जी की याद, शेयर की यह कविता

अमिताभ बच्चन को कठिन परिस्थितियों में आई बाबू जी की याद, शेयर की यह कविता

अमिताभ बच्चन को कठिन परिस्थितियों में आई बाबू जी की याद, शेयर की यह कविता

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन(Amitabh Bachchan) सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं। इस समय जहां कोरोना वायरस और ब्लैक फंगस की वजह से हर ओर निराशा छायी हुई है। ऐसे में बिग बी अक्सर फैंस के साथ अपने पॉजिटिव विचार शेयर करते रहते है। इन मुसीबत की घड़ियों में वह अपने फैंस का उत्साह बढ़ाने की कोशिश करते रहते हैं। इसके साथ ही वह इन कठिन परिस्थितियों में लोगों की मदद करने में लगे हुए हैं। हाल ही में सदी के महानायक ने ट्विटर पर एक पोस्ट शेयर किया है। सीनियर बच्चन ने अपने ट्वीट में पिता हरिवंश राय बच्चन की कविता शेयर करते हुए कहा है कि यह दुख भी ज्यादा समय के लिए नहीं रहेगा।

अमिताभ बच्चन ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'बाबूजी के शब्द, बार बार याद आते हैं इन संकट की घड़ियों में। लिखाई मेरी, लेखन उनका। बिग बी ने बाबूजी की कविता साथी साथ न देगा दुख भी लिखी है। उन्होंने लिखा- काल छीनने दु:ख आता है,जब दु:ख भी प्रिय हो जाता है, नहीं चाहते जब हम दु:ख के बदले चिर सुख भी! साथी साथ ना देगा दु:ख भी!' बिग बी का ये पोस्ट सोशल मीडिया पर काफी वायरल है।

हाल ही में बिग बी के ऑफिस में ताउते तूफान ने उथल-पुथल मचा दी थी। उन्होंने अपने ब्लॉग में इस बात की जानकारी देते हुए लिखा था, 'यहां चक्रवात के बीच एक भयानक सन्नाटा है। दिन भर तेज़ और जोरदार बारिश हुई, पेड़ गिरे, लीकेज, जनक ऑफिस में बाढ़ आ गई। भारी मानसून की बारिश के लिए जो प्लास्टिक कवर शीट लगाई थी वह भी फट गई। कुछ कर्मचारियों के लिए जो शेड और शेल्टर बने थे वह भी उड़ गए। हालांकि, सभी एक दूसरी की मदद कर रहे हैं। बारिश में भीग रहे हैं, लेकिन काम फिर भी जारी है।'

बता दें की इस वैश्विक महामारी कोरोना में बिग ने लोगो की बहुत मदद की है। उन्होंने हाल ही में मुंबई के इमरजेंसी लिए पोलैंड से 50 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर ऑर्डर किए हैं। इस बात की जानकारी सीनियर बच्चन ने अपने लेटेस्ट ब्लॉग में शेयर की है।