उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना को मात देने के लिए कुछ ऐसा कदम उठाये की हर जगह होने लगी तारीफ

आज समूचा देश इस कोरोना नामक महामारी को झेल रहा है. कोरोना महामारी ने हर किसी को तबाह करके रख दिया है. पूरा देश कोरोना महामारी से भयग्रस्त है. कोरोना की दूसरी लहर ने देश में कोहराम मचा के रख दिया है. कोरोना की दूसरी लहर अधिक जानलेवा है. आज समूचा देश इस कहर से कराह रहा है. इस कोरोना नामक भयंकर बीमारी से निपटने के लिए केन्द्र सरकार से लेके सब राज्य सरकारें बहुत ही अधिक प्रयास कर रहीं हैं.

इसी तरह से कोरोना को मात देने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बढ़ते हुए कोरोना पर काबू पाने के लिए कई तरह के सख्त कदम उठाये हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्रेस,टेस्ट और ट्रीट का फॉर्मूला अपनाया है. योगी जी को इस फॉर्मूले पर बहुत ही अधिक तारीफ मिल रही है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी जब कोरोना महामारी के बारे में जानने के लिए जब राज्यों के लोगों से मिलते हैं तो लोग राहत और सुरक्षा की भावना महसूस करते हैं मुख्यमंत्री से व्यक्तिगत रूप से जो लोग मिलते हैं उनका कहना है कि अब सब ठीक हो जायेगा हमारे साथ योगी जी का हाथ है.

आपको बता दें कि #UPWithYogiJi और #योगी जी का यूपी मॉडल इस समय टॉप ट्रेंड पर है. क्योकि ज्यादातर इन्टरनेट यूजर्स इस वायरस से निजात पाने के लिए मुख्यमंत्री के शीघ्र और सक्रीय दृष्टिकोण की खूब तारीफ कर रहें हैं. योगी आदित्यनाथ के द्वारा किये गये कार्यों को लेकर ट्विटर पर भी बहुत प्रभाव पड़ा है. बता दें कि योगी जी के समर्थन में 2 लाख से ज्यादा लोगों ने ट्वीट किया है.

उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 24 करोड़ लोगों के लिए अच्छी व्यवस्था और पर्याप्त उपचार की सहायता करायें हैं और 4.5 करोड़ से अधिक सैम्पल्स की जांच भी करायी गई है. आपको बता दें कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा किये गये कोरोना के बचाव के उपायों को महत्त्व देते हुए सराहना की है.