तमिलनाडु : राजनीति में नहीं चला सुपरस्टार कमल हासन का जादू, भाजपा की महिला उम्मीदवार ने दी पटखनी

तमिलनाडु की राजनीति में फ़िल्मी सितारों का जलवा रहा है. MGR से लेकर जयललिता तक ने राज्य की सत्ता को सफलतापूर्वक चलाया. लेकिन सुपरस्टार कमल हासन उनक करिश्मा दोहराने में नाकाम रहे. तमिलनाडु विधानसभा चुनाव में कमल हासन को कोयम्बटूर दक्षिण विधानसभा सीट से हार का मुंह देखना पड़ा. कमल हासन को भाजपा उम्मीदवार वानथी श्रीनिवासन ने बेहद नजदीकी मुकाबले में परास्त किया. कमल हासन  मक्कल नधि मय्यम (एमएनएम) नाम से अपनी पार्टी बना कर मैदान में उतरे थे. वानथी श्रीनिवासन ने कमल हासन को 1728 वोटों से हराया. वानती श्रीनिवासन तमिलनाडु भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष हैं.

तमिलनाडु में कमल हासन बीजेपी विरोधी चेहरा बनने की कोशिश में थे. कई मौकों पर उन्हें पीएम मोदी की कड़ी आलोचना करते हुए देखा गया है. लेकिन शायद तमिलनाडु की जनता अभी कमल हासन पर भरोसा करने को तैयार नहीं. इसलिए तो उन्होंने जितनी सीटों पर अपनी पार्टी के उम्मीदवार उतारे थे उन सभी सीटों पर कमल हासन को छोड़ कर सबकी जमानत जब्त हो गई.

तमिलनाडु में DMK ने शानदार जीत दर्ज करते हुए 10 सालों बाद सत्ता में वापसी की. राज्य में उसने कांग्रेस के साथ गठबंधन किया था. जबकि AIADMK का गठबंधन भाजपा के साथ था. भाजपा ने 20 सीटों पर चुनाव लड़ा और 4 सीटों पे जीत दर्ज की. दो दशक बाद तमिलनाडु विधानसभा में भाजपा के प्रतिनिधि होंगे. 234 सदस्यीय विधानसभा में DMK गठबंधन ने 156 सीटें हासिल की. जबकि AIADMK गठबंधन ने 74 सीटों पर जीत दर्ज की.