मशहूर पर्यावरणविद सुन्दर लाल बहुगुणा का कोरोना से निधन, उत्तराखंड के CM तीरथ सिंह रावत ने जताया दुख

देश में कोरोना की दूसरी लहर हाहाकार मचा रही है. वही दूसरी तरफ अभी तक कोरोना के कारण कई लोगो की मौत भी हो चुकी है. जिस वजह से देश में एक बार फिर से डर का माहौल साफ़ देखने को मिल रहा है हालात इस कदर ख़राब है कुछ जगहों पर अभी भी स्वास्थ्य सेवाओं का अभाव हो रखा है और इसी वजह से दिन पर दिन मरने वालों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है.

वही जानकारी के लिए बता दें कि पदमविभूषण व प्रशिद्ध पर्यावरणविद सुन्दर लाल बहुगुणा का शुक्रवार दोपहर करीब 12 बजे ऋषिकेश एम्स में निधन हो गया. बता दें कि वे कोरोना से पीड़ित थे. इसके अलावा पता हो कि रात में उनका ऑक्सीजन लेवल 86 प्रतिशत पर था. वही डॉक्टरों के मुताबिक वह डायबिटीज के पेशेन्ट थे और उन्हें कोविड के साथ निमोनिया भी था.

इसके अलावा पता हो कि वे टिहरी जिले के सिराई मरोड़ा गांव के रहने वाले थे. वही उनके निधन पर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने दुख व्यक्त किया है उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि “चिपको आंदोलन के प्रणेता, विश्व में वृक्षमित्र के नाम से प्रसिद्ध महान पर्यावरणविद् पद्म विभूषण श्री सुंदरलाल बहुगुणा जी के निधन का अत्यंत पीड़ादायक समाचार मिला. यह खबर सुनकर मन बेहद व्यथित हैं. यह सिर्फ उत्तराखंड के लिए नहीं बल्कि संपूर्ण देश के लिए अपूरणीय क्षति है.”जाहिर है बहुगुणा के निधन के बाद इलाके में शोक की लहर छा गयी है.