कोरोना महामारी के बीच अपनी सप्लाई चेन मजबूत करने के लिए Flipkart ने की 23 हजार नई भर्तियां

फ्लिपकार्ट भर्ती

फ्लिपकार्ट भर्ती

बेंगलुरु। देश में कोरोना वायरस की वजह से फैली महामारी की वजह ऑनलाइन शॉपिंग की डिमांड काफी बढ़ गई है। चाहे किराना का सामान हो या कोई इलेक्ट्रानिक सामान अधिकतर लोग ऑनलाइन ही खरीदारी करने में दिलचस्पी दिखा रहे हैं। ऐसे में ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट (Flipkart) ने मंगलवार को कहा कि उसने अपनी आपूर्ति श्रृंखला को मजबूत करने के लिए मार्च-मई 2021 के दौरान देश भर में वितरण अधिकारियों सहित विभिन्न क्षमताओं में 23 हजार लोगों को भर्ती किया है।

हजारों युवाओं को मिला रोजगार

फ्लिपकार्ट आपूर्ति श्रृंखला के वरिष्ठ उपाध्यक्ष हेमंत बद्री ने कहा कि लोग वायरस से लड़ने के लिए घर के अंदर ही रह रहे हैं, और देश भर में ई-कॉमर्स सेवाओं की मांग बढ़ रही है। इससे हमारी आपूर्ति श्रृंखला का विस्तार जरूरी हो गया और हजारों रोजगार के अवसर पैदा हो रहे हैं। कंपनी ने एक बयान में कहा कि वह सीधी भर्ती के लिए आपूर्ति श्रृंखला के विभिन्न पहलुओं से संबंधित प्रशिक्षण कार्यक्रम भी चला रही है। ये प्रशिक्षण कार्यक्रम व्हॉट्सएप, जूम और हैंगआउट जैसे मोबाइल ऐप के साथ ही फ्लिपकार्ट के अपने मंच के जरिये भी संचालित किए जा रहे हैं। फ्लिपकार्ट (Flipkart) ने इस महीने अपने ग्राहकों को त्वरित और संपर्क रहित डोरस्टेप डिलीवरी के माध्यम से दैनिक आवश्यक वस्तुओं को ऑर्डर करने के लिए सुरक्षित और निर्बाध पहुंच प्रदान करने के लिए अपनी किराने की आपूर्ति श्रृंखला के बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने की घोषणा की।

प्रति दिन 73 हजार से अधिक किराना ऑर्डर पूरा करने में मिलेगी मदद

योजना के हिस्से के रूप में, फ्लिपकार्ट (Flipkart) अगले तीन महीनों में पांच नए पूर्ति केंद्रों के माध्यम से 8 लाख वर्ग फुट से अधिक जगह जोड़ेगा। इस अतिरिक्त बुनियादी ढांचे के साथ, बाजार दिल्ली, कोलकाता, चेन्नई, कोयंबटूर और हैदराबाद में अधिक उपयोगकतार्ओं के लिए ऑनलाइन किराने की खरीदारी में आसानी लाएगा। इससे फ्लिपकार्ट को प्रति दिन 73,000 से अधिक किराना ऑर्डर पूरा करने में मदद मिलेगी। पिछले महीने, ई कॉमर्स कंपनी ने लखनऊ, पुणे, अहमदाबाद, दिल्ली, बैंगलोर, चेन्नई, मुंबई, हैदराबाद, कोलकाता और पटना में किराना पूर्ति केंद्र की क्षमता बढ़ाई। यह वर्तमान में एक दिन में करीब 64 हजार ऑर्डर देता है।