नेपाल के PM केपी शर्मा ओली को लगा बड़ा झटका, बहुमत साबित करने में रहे असफल

नेपाल के प्रधानमंत्री किसी न किसी वजह से सुर्ख़ियों में बने ही रहते है लेकिन फ़िलहाल उनकी परेशानी बढ़ गयी है और उन्हें बड़ा झटका लगा है. जानकारी के लिए बता दें कि नेपाल के PM केपी शर्मा ओली सोमवार को ससंद के निचले सदन में अपना बहुमत साबित करने में असफल रहे है और इसी के साथ उन्हें एक बड़ा झटका लगा है.

बता दें कि नेपाली संविधान के आधार पर उनके हाथ से PM पद चला गया है और पुष्पकमल दहल ‘प्रचंड’ नीत नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के ओली सरकार से समर्थन वापस लेने के बाद उन्हें निचले सदन में बहुमत साबित करना था और ईस वजह से नेपाल में सोमवार को संसद का विशेष सत्र बुलाया गया था. जिस दौरान नेपाली PM ओली अपना बहुमत साबित नहीं कर पाए है और अब उन्हें अपने पद से भी हाथ धोना पड़ गया है.

बता दें कि PM ओली 275 सदस्यीय सदन में बहुमत साबित करने के लिए विश्वास मत साबित नहीं कर पाए. इतना ही नहीं उन्हे सिर्फ 93 वोट मिले जबकि उन्हें कम से कम 136 वोटों की दरकार थी. विश्वास मत के दौरान 124 वोट पड़े. जिसमें15 सांसद तटस्थ रहे जबकि 35 सांसद वोटिंग से गायब रहे. इसके साथ ही आर्टिकल 100(3) के मुताबिक अपने आप ही ओली PM पद से मुक्त हो गए. बता दें कि फ्लोर टेस्ट से पहले ही ओली को बड़ा झटका लग चुका था जब उनकी पार्टी के कुछ सदस्य सोमवार को संसद में विशेष सत्र में भाग लेने नहीं पहुंचे. इतना ही नहीं  पार्टी के एक नेता भीम रावल ने कहा था कि पार्टी के असंतुष्ट गुट के 20 से अधिक विधायकों ने सत्र का बहिष्कार करने का फैसला किया