अब कश्मीर मुद्दे पर कूदे राकेश टिकैत, कहा ‘आर्टिकल 370 हटने से परेशान हैं किसान’

भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत के एक बयान से बवाल बढ़ गया. किसानों के लिए आंदोलन के नाम पर दिल्ली बॉर्डर घेर कर बैठे राकेश टिकैत ने अब कश्मीर मुद्दे पर अपनी टांग अड़ाई है और एक ऐसा बयान दे दिया जिसके बाद वो सोशल मीडिया पर लोगों के निशाने पर आ गए. राकेश टिकैत ने कहा कि कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से वहां के किसान परेशान हैं. टिकैत ने ये भी कहा कि घाटी में केवल कुछ प्राइवेट कंपनियों को ही फायदा हो रहा है और जो किसान विरोध कर रहे हैं उन्हें आतंकी बताया जा रहा है. ऐसे वक़्त में जब केंद्र सरकार कश्मीर के हालात सँभालने की कोशिश में जुटी है राकेश टिकैत का बयान भड़काऊ था और लोग भड़क भी गए. सोशल मंदी अपर टिकैत को जमकर खरी-खोटी सुनाई जा रही है.

टिकैत ने जम्मू-कश्मीर के नेताओं के साथ पीएम के सर्वदलीय बैठक पर भी तंज कसते हुए कहा कि गर्मी का मौसम है तो कश्मीर दिख रहा है. ये पहली बार नही है जब टिकैत ने इस तरह का बयान दिया हो जिसका किसानों से कोई लेना देना नहीं है. जब से किसान आंदोलन शुरू हुआ है तब से ही विवादित बयानबाजी जारी है. कभी CAA विरोधी प्रदर्शन के दौरान गिरफ्तार हिंसा भड़काने वालों की रिहाई की मांग उठती है तो कभी खालिस्तान के समर्थन में बैनर लहराते हुए दिख जाते हैं, कभी पीएम को गोली मारने की बात होती है तो कभी संसद घेरने की बात होती है.

दरअसल 6 महीने से चल रहा किसान आंदोलन अब ठंडा पड़ने लगा है. मीडिया की ख़बरों से दूर होने लगा है. बॉर्डर घर कर बैठे किसान भी वापस लौटने लगे हैं. टिकैत को अपनी राजनीति ख़त्म होती दिख रही है. ऐसे में उनकी तरफ से बार बार विवादित बयान दिया जा रहा है जिससे वो ख़बरों में बने रह सकें.