आर्टिकल 370 को लेकर किसान नेता राकेश टिकैत ने दिया बड़ा बयान, कही ये बात

भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत के एक बयान से बवाल मचा हुआ है. जानकारी के लिए बता दें कि किसानों के लिए आंदोलन के नाम पर दिल्ली बॉर्डर को घेर कर बैठे राकेश टिकैत ने अब कश्मीर मुद्दे पर अपनी टांग अड़ाना शुरू कर दिया है और एक ऐसा बयान दे दिया जिसके बाद से वो सोशल मीडिया पर लोगों के निशाने पर आ गए. दरअसल राकेश टिकैत ने कहा कि कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से वहां के किसान परेशान हैं और घाटी में केवल कुछ प्राइवेट कंपनियों को ही फायदा हो रहा है और जो किसान विरोध कर रहे हैं उन्हें आतंकी बताया जा रहा है. जिस पर काफी बवाल मच गया है.

वही दूसरी तरफ अब राकेश टिकैत ने एक बार फिर से आर्टिकल 370 पर बड़ा बयान दिया है. बता दें कि टिकैत ने कहा कि “हमें लगा था कि 370 बड़ा मसला है, जो सॉल्व हो गया. 370 हटा तो अच्छा लगा, लेकिन वहां के किसानों को, आम जनता को नुकसान हुआ है. हम वहां की जनता के साथ है” साथ ही साथ राकेश टिकैत ने कहा कि “उन्हें जो पहले ट्रांसपोर्ट पैकेज मिलता था, वो अभी भी मिलता रहे. उनका मकसद है कि पैकेज न हटे. पैकेज मिलता रहे. बिजली और ट्रांसपोर्ट पर सब्सिडी मिलती रहे. 370 रहे या न रहे, पैकेज के जरिए जो सुविधा मिल रही थी वो मिलती रहे. जो पैकेज सरकार देती थी, वो जारी रहे.”

आगे टिकैत ने कहा कि “सोचा नहीं था कि आजाद देश में किसानों को आंदोलन करना पड़ेगा. हमने दोबारा बातचीत के लिए सरकार को चिट्ठी लिखी थी, उनका जवाब आया कि कानून वापस नहीं होगा, बात कर लो.” जाहिर है कि नए कृषि कानून बिलों को लेकर बीते कई महीनो से किसान आन्दोलन कर रहे है और बॉर्डर पर बैठे हुए है.