ऑनलाइन पढ़ाई के दबाव से परेशान हुई एक 6 वर्षीय बच्ची ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से किया शिकायत

देश में कोरोना के कहर के वजह से सब कुछ अस्त – व्यस्त हो गया है. ऐसा लग रहा है सबकुछ रुक गया है. हम सब सिर्फ एक ही बात सोच रहें हैं कि किसी तरह से इस कोरोना नामक घातक महामारी से बचा जा सके. इसी वजह से जो जरूरी कार्य हैं वही किया जा रहा है इस कोरोना ने हम सब को बांध के रख दिया है. ऐसे में सबसे अधिक परेशान बच्चे हैं अपनी पढ़ाई को लेकर वो भी बड़े बच्चे तो फिर भी संभले हुए है ऑनलाइन क्लास को लेकर लेकिन छोटे बच्चे तो घरों में कैद हो गये हैं और ऑनलाइन पढ़ाई उनके लिए बड़ी चुनौती हो गई है.

आपको बता दें कि इसी चुनौती का सामना कर रही जम्मू कश्मीर की एक 6 वर्ष की बच्ची सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री मोदी जी से शिकायत से भरे शब्दों का एक विडिओ शेयर किया है. जो इस समय काफी चर्चा का विषय बना हुआ है. आपको बता दें कि ये शिकायत करने वाली जम्मू कश्मीर की 6 वर्षीय बच्ची ऑनलाइन क्लास से खुश नहीं है. विडिओ में बच्ची अपने विद्यालय से मिलने वाले होमवर्क और अधिक देर तक चलने वाली क्लास को लेकर बहुत परेशान है.

उसने अपने विडिओ में प्रधानमंत्री जी से कहा है कि उसकी ऑनलाइन क्लास सुबह 10 बजे से शुरू हो जाती है और दोपहर के दो बजे तक चलती है. इस क्लास में उसे मैथ्स, उर्दू, इंग्लिश, ईवीएस पढ़ना पड़ता है. साथ ही उसने ये भी कहा है कि इतना काम तो बड़े बच्चो को करना चाहिए जो 6, 7, 8 क्लास में है. आखिर छोटे बच्चों को इतना काम क्यों करना पढ़ता है मोदी साहब. ऐसा कहते हुए बच्ची ने वीडियो शेयर किया है.

बता दें कि जम्मू कश्मीर के एलजी मनोज सिन्हा ने सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो को ट्विटर पर शेयर करते हुए कहा है कि यह बहुत मनमोहक शिकायत है. उन्होंने विद्यालयी बच्चों पर गृहकार्य के बोझ को कम करने के लिए विद्यालय शिक्षा विभाग को 48 घंटे के अन्दर निति बनाने का निर्देश दिया है. ट्विटर के पोस्ट में आगे लिखा है कि बचपन की मासूमियत भगवान का उपहार है और उनके दिन जिवंत, आनंद से भरा होना चाहिये. ऐसा माना जा रा है कि बच्ची के इस मनमोहक शिकायत के बाद ऑनलाइन क्लास में बच्चो को कुछ राहत दी जायेगी.