संजय सिंह के खिलाफ AAP में ही उठे सवाल, पार्टी नेता ने कहा ‘पार्टी फंड का पैसा चुराने वाले चोर राम मंदिर पर सवाल उठा रहे हैं’

राम मंदिर के लिए भूमि खरीद में अनियमितता का मामला रोज एक नया मोड़ लेता जा रहा है. आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने पूरे मामले में बड़े घोटाले का आरोप लगाया है और जांच की मांग की है. लेकिन इस मुद्दे को लेकर आम आदमी पार्टी में ही महाभारत शुरू हो गई है. संजय सिंह अब अपनी ही पार्टी में घिर गए हैं. पार्टी के ही नेता रत्नेश मिश्र ने संजय सिंह को झूठा करार देते हुए राम विरोधी होने तक के आरोप लगाए हैं. रत्नेश मिश्र आम आदमी पार्टी यूथ ब्रिगेड के प्रदेश प्रवक्ता हैं.

रत्नेश मिश्र ने अयोध्या में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर संजय सिंह को जमकर खरी-खोटी सुनाई. उन्हें राम विरोधी तक कह दिया. उन्होंने कहा , ‘जमीन खरीदने के मामले में संजय सिंह राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को बदनाम कर रहे हैं. गोंडा का निवासी होने की वजह से मुझे दिल्ली से अयोध्या में संतों को ट्रस्ट एवं बीजेपी के विरुद्ध तैयार करने को बोला गया. अयोध्या पहुंच कर मुझे ऐसा लगा कि संजय सिंह पाप कर रहे हैं, क्योंकि ट्रस्ट द्वारा जमीन खरीदने के हर पहलू पर मैंने चर्चा की है, जो सही है.’

रत्नेश मिश्र ने आगे कहा, ‘संजय सिंह अपनी राजनीति चमकाने के लिए ट्रस्ट को बदनाम कर रहे हैं और ओछा बयान देकर लोगों की आस्था पर प्रहार कर रहे है. संजय सिंह पार्टी का फंड खाते हैं एवं पार्टी का पैसा चुराकर सुलतानपुर में आलीशान मकान बनवाया. पार्टी फंड का पैसा चुराने वाले चोर के राम मंदिर पर सवाल उठाने से मैं आहत हूं. माननीय मुख्मंत्री अरविंद केजरीवाल जी का सच्चा सिपाही हूं और सदेव रहूंगा. मैं संजय सिंह को पार्टी से निकालने की मांग करूंगा.’