राजधानी दिल्ली में लॉकडाउन खुलते ही बाजारों में लगी भीड़ को देखकर हाईकोर्ट ने दिए सख्त आदेश

देश में कोरोना की दूसरी लहर के भयावह कहर को झलने के बाद अब धीरे-धीरे सब कुछ पहले जैसा सामान्य हो रहा है. कोरोना से बचाव के लिए लगाये गये लॉकडाउन अब अनलॉक किये जा रहें हैं. बता दें कि जिस समय हम कोरोना की दूसरी लहर के संकट का सामना कर रहे थे तभी हमारे बीच यह खबर आ गई थी कि कोरोना की तीसरी लहर भी आयेगी. लेकिन इस बात का ख्याल किसी को भी नहीं है.

आपको बता दें कि जैसे ही राजधानी दिल्ली में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हुई वैसे ही बाजारों में बहुत अधिक संख्या में लोगों का भीड़ लगना शुरू हो गया है. इस दौरान कोरोना से सुरक्षा प्रोटोकॉल का बहुत ही अधिक उल्लंघन देखने को मिल रहा है. लोग बिना मास्क पहने ही इधर-उधर घूमते नजर आ रहे हैं. कोरोना को लेकर के इस तरह की लापरवाही को देखते हुए आज यानि शुक्रवार को हाईकोर्ट ने संज्ञान लेते कहा कि सुरक्षा नियमों का इस तरह से उल्लंघन करने से कोरोना की तीसरी और अधिक तीव्र हो जाएगी. फिर इसकी अनुमति नहीं दी जा सकती है.

बता दें कि राजधानी दिल्ली के हाईकोर्ट ने अनलॉक के बाद बढ़ती भीड़ और लोगों के लापरवाही को देखते हुए केन्द्र सरकार और दिल्ली सरकार को इस सम्बन्ध में सख्त कदम उठाने के लिए निर्देश दिए हैं. हाईकोर्ट ने ये भी कहा है कि दुकानदारों को जागरूक किया जाये और व्यापारी संगठनों के साथ इस पर विचार करते हुए विशेष बैठक किया जाये. ताकि लोग कोरोना से बचाव के लिए जारी किये गये नियमों का पालन करें. इसी के साथ ही हाईकोर्ट ने सरकार से सवाल किया है कि लॉकडाउन खोलने के बाद लोग कोरोना से बचाव के नियमों का पालन क्यों नहीं कर रहें हैं? कोर्ट ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि सरकार को कोरोना संक्रमण के तीसरी लहर को रोकने के लिए सख्त कदम उठाने की आवश्यकता है.