अयोध्या के विकास कार्यो पर पीएम मोदी ने की समीक्षा बैठक, विजन डॉक्यूमेंट पर की चर्चा

बीते कुछ दिनों से अयोध्या राम मंदिर की जमीन को लेकर हलचल मची हुई है. वही दूसरी तरफ आज अयोध्या के विजन डॉक्यूमेंट को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मीटिंग की. इस दौरान पीएम मोदी के सामने अयोध्या के विकास कार्यो का विजन डॉक्यूमेंट रखे गए. बता दें कि पीएम मोदी के साथ इस मीटिंग में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, दोनों डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा समेत कई अधिकारी सीएम हाउस से ही जुड़े. इसके अलावा अयोध्या विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विशाल सिंह सहित अन्य विभागों के अधिकारी भी इस बैठक में शामिल हुए.

बता दें कि इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि “अयोध्या का विकास इस तरह से होना चाहिए कि आने वाली पीढ़ी को अपने जीवन में कम से कम एक बार अयोध्या आने की इच्छा महसूस हो.” साथ ही साथ उन्होंने ये भी कहा कि “अयोध्या को एक ऐसा शहर बताया जो हर भारतीय की सांस्कृतिक चेतना में बसा है, इसलिए इसमें परंपराओं की झलक दिखनी चाहिए. अयोध्या आध्यात्मिक शहर है, इसलिए इसका भविष्य का बुनियादी ढांचा ऐसा होना चाहिए, जो पर्यटकों और तीर्थयात्रियों के साथ-साथ सभी के लिए फायदेमंद है.”

वही दूसरी तरफ अयोध्या के विजन डॉक्यूमेंट में बताया गया कि अयोध्या में पीपीपी मोड पर 400 करोड़ की लागत से बस स्टैंड का निर्माण कराया जाएगा. इंटर स्टेट टर्मिनल इस बस स्टैंड पर आने वाले लोगों को जाम से बचाने के लिए एक करीब डेढ़ किलोमीटर का फ्लाईओवर भी बनेगा. जाहिर है कि अयोध्या में विकास का कार्य जारी है. साथ ही अयोध्या नगरी को और बेहतर बनाये जाने के लिए खाका तैयार किया जा रहा है.