भारत और इजरायल अब बॉर्डर पर एक साथ, चीन की धडकने बढ़ी

भारत आज विश्व में एक ऐसी शक्ति के तौर पर उभर कर के सामने आ चुका है जिसकी अपनी एक बहुत ही बड़ी पहुँच है और मित्र देश भी भारत के साथ में हर पल खड़े रहते है ये तो हम लोग जानते ही है. अब हाल ही में भारत और चीन के बीच में जो विवाद हुए है उसके बाद में भारत के लिए बड़ी दिक्कते खड़ी हो रही है क्योंकि चीन के साथ में समतल नही बल्कि हिमालयी बॉर्डर लगता है जहाँ से चीन पहाड़ के किस कोने में क्या हरकत कर रहा है इसको देखना और कण्ट्रोल कर पाना थोडा मुश्किल होता है, लेकिन लगता है अब ऐसा नही होने वाला है.

इजरायल के ड्रोन भारतीय सीमा पर करेंगे पहरेदारी, चीन की सरदर्दी बढ़ी
भारत और चीन के बीच बढे तनाव के बीच इजरायल भारत की मदद के लिए आ चुका है. अब इजरायल के हेरॉन नाम के ड्रोन भारतीय सेना का हिस्सा बनेंगे, लेकिन ध्यान रहे भारत इनको खरीद नही रहा है बल्कि सेना कुछ नोमिनल कॉस्ट पर इजरायल से इस्तेमाल करने के लिए ले रही है ताकि चीन को हिमालय बॉर्डर के आस पास में रोका जा सके और उसमे ये ड्रोन बहुत ही अधिक सक्षम है.

आप एक तरह से यहाँ पर ये भी कह सकते है कि बॉर्डर पर इजरायल ने अपनी टेक्नोलॉजी को भारत के पक्ष में तैनात कर दिया है और अब चीन के लिए इजरायली टेक का तोड़ निकाल पाना संभव ही नही है क्योंकि वो विश्व में सबसे बेस्ट मानी जाती है, तो ऐसे में जाहिर सी बात है कि भारत को एक अंक की बढ़त आज इजरायल की मदद से मिल गयी है. ये ड्रोन पहाड़ी इलाको में उड़ने और सर्विलियांस करने ट्रैकिंग आदि करने में बहुत ही ज्यादा सक्षम माने जाते है.

आज भारत और इजरायल की बढ़ रही इन्ही नजदीकी के कारण से चीन इजरायल से काफी गुस्सा भी रहा है. आपको मालूम हो तो आजकल चीन यूएन फोरम पर भी इजरायल के खिलाफ वोट करता रहता है ताकि इजरायल दबाव में आकर के भारत का साथ छोड़ दे, लेकिन ऐसा हो नही रहा है.