कंगना रनौत ने लीजेंड किशोर कुमार संग की अपनी तुलना, कहा सच्चे टैलेंट को हमेशा लड़नी पड़ती है लड़ाई

कंगना रनौत ने लीजेंड किशोर कुमार संग की अपनी तुलना, कहा सच्चे टैलेंट को हमेशा लड़नी पड़ती है लड़ाई

कंगना रनौत ने लीजेंड किशोर कुमार संग की अपनी तुलना, कहा सच्चे टैलेंट को हमेशा लड़नी पड़ती है लड़ाई

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) सोशल मीडिया पर जबरदस्त एक्टिव रहती हैं। कंगना अपने विचारों को पब्लिक के आगे बेबाकी के साथ रखती है। इसी कारण वह अक्सर सुर्खियों में बनी रहती हैं। कंगना अपनी फिल्मों से ज्यादा अपने बड़बोलेपन की वजह से फेमस हैं। हाल फिलहाल में कंगना ने अपने पासपोर्ट को रिन्यू करने की अर्जी दाखिल की थी। इसी मामले पर शुक्रवार को सुनवाई होनी थी। जिसके बाद कंगना ने खुद की तुलना लीजेंड सिंगर किशोर कुमार (Kishore Kumar) के साथ की है।

कंगना ने एक ट्वीट का स्क्रीनशॉर्ट अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर शेयर किया है। उस ट्वीट में लिखा है- 'सिंगर किशोर कुमार के गाने इमरजेंसी के दौरान ऑल इंडिया रेडियो और दूरदर्शन पर बैन कर दिए गए थे क्योंकि उन्होंने कांग्रेस के लिए गाने से मना कर दिया था। मुझे आज भी कांग्रेस पार्टी के समर्थकों में किशोर कुमार के लिए नाराजगी नजर आती है।' कंगना ने ये स्क्रीनशॉर्ट शेयर करते हुए लिखा- 'बीते दिन भी मुझे मेरा पासपोर्ट नहीं दिया गया क्योंकि कोर्ट मुझे परमिशन देने में बिजी था। जी हां उन्होंने मुझे ये ही कहा लेकिन जब मैं पीछे मुड़कर देखती हूं तो पता चलता है सच्ची कला को हमेशा फासीवाद के खिलाफ कठिन लड़ाई लड़नी पड़ती है।'

बता दें, बॉम्बे हाईकोर्ट ने कंगना रनौत की याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि अभिनेत्री ने गलत याचिका दाखिल की है। हाईकोर्ट ने कहा कि जब पासपोर्ट की मियाद खत्म हो रही है तब आखिरी समय में याचिका क्यों दाखिल की गई है? बता दें, रीजनल पासपोर्ट ऑफिस ने कंगना के पासपोर्ट पर आपत्ति जताते हुए उसे रिन्यू करने से मना कर दिया था।कंगना रनौत को अपनी आने वाली फिल्म 'धाकड़' (Dhakad) की शूटिंग के लिए बुडापेस्ट जाना है जिसके लिए उन्हें अपना पासपोर्ट रिन्यू करवाना है। एक्ट्रेस के खिलाफ समुदायों में नफरत फैलाने, सांप्रदायिकता फैलाने, आपत्तिजनक ट्वीट करने और देशद्रोह का मामला चल रहा है जिसकी वजह से उनका पासपोर्ट रिन्यू नहीं किया जा रहा है। इसके लिए कंगना ने बॉम्बे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। अब कोर्ट ने इस केस में अगले हफ्ते सुनवाई करने के लिए कहा है।