बड़ी खबर: जितिन प्रसाद के बाद कांग्रेस नेता सचिन पायलट की बीजेपी में शामिल होने की अटकलें हुई तेज

भारत की स्वतन्त्रता के बाद से भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस भारत के मुख्य राजनैतिक दलों में से एक रही है. लम्बे समय से शासन कर रही कांग्रेस पार्टी इस समय संकट से जूझ रही है. इसका कारण ये है कि कांग्रेस पार्टी के नेता नाराज होकर पार्टी को छोड़ते जा रहें हैं. अभी जल्दी ही बीते बुधवार को राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी वाड्रा के करीबी कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गये हैं. हालांकि कांग्रेस पार्टी में ऐसा पहली बार नहीं हुआ है. इससे पहले भी समय-समय पर विभिन्न नेताओ ने काँग्रेस की नीतियों का विरोध किया और उसे हटाने के लिये संघर्ष किया.  

इसी कड़ी में आगे बढ़ते हुए पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट की भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने की रफ्तार तीव्र हो गई है. बता दें कि भारतीय जनता पार्टी की नेता रीता बहुगुणा जोशी ने बताया है कि जल्द ही सचिन पायलट भारतीय जनता पार्टी का दामन थामेंगे. इस बात को लेकर उन्हें फोन भी कर चुकी हैं. इस बात पर सचिन पायलट ने सफाई देते हुए कहा कि रीता बहुगुणा जोशी ने कहा है कि उन्होंने सचिन से बात की है. उन्होंने सचिन तेंदुलकर से बात की होगी. उनमें मुझसे बात करने की हिम्मत नहीं है.

आपको बता दें कि यह एक सत्य है कि कांग्रेस में ऐसे नेताओं की संख्या बढ़ती जा रही है. जिनका पार्टी से मोह भंग हो रहा है. हर चार से छह महीने के बाद कांग्रेस का कोई न कोई नेता पार्टी से बाहर निकल जा रहा है. इस स्थिति के लिए कांग्रेस नेतृत्व अपने आलावा किसी ओंर को दोष नहीं दे सकता. आखिर कुछ तो ऐसा है, जिसके वजह से कांग्रेस नेता पार्टी में अपना भविष्य नहीं देख रहें हैं.