अपना दल को खुश करने की तैयारी में बीजेपी, अनुप्रिया और उनके पति को दी जा सकती है बड़ी जिम्मेदारी

उत्तरप्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव से पहले योगी कैबिनेट और केंद्रीय मंत्रीमंडल में विस्तार को लेकर अटकलें तेज हो गयी हैं. भाजपा में यूपी में किसी तरह की चूक करना नही चाहती है जिसका ख़ामियाज़ा चुनाव में उठाना पड़े. इसीलिए यूपी से लेकर दिल्ली तक चर्चाएँ तेज हैं.

जानकारी के लिए बता दें मोदी सरकार इस बार पिछड़ों का नेतृत्व करने वाली और उनकी बात रखने वाली अपना दल एस की नेता अनुप्रिया पटेल को नाराज़ करना नही चाहती है. ऐसे में इस बात की अटकलें तेज हो गयी हैं कि अनुप्रिया को मोदी सरकार में और उनके पति आशीष पटेल को योगी सरकार में बड़ी ज़िम्मेदारी देकर खुश किया जा सकता है.

दरअसल फेरबदल की ख़बरों के बीच दिल्ली में मुलाक़ात का दौर चला. इस दौरान अनुप्रिया भी अमित शाह से मिलने पहुंची थी. जिसके बाद से ही इस तरह के क़यास तेज हो गए हैं. हालाँकि अनुप्रिया के पति और अपना दल के चाणक्य कहे जाने वाले आशीष पटेल ने इस मुलाक़ात को महज़ शिष्टाचार भेंट थी.

ग़ौरतलब है कि अपना दल के अंदरखाने भी यही चर्चा चल रही है कि उनकी नेता का क़द फिर से बढ़ाया जा सकता है. वहीं उन्हें खुश करने के पीछे की वजह ये भी हो सकती है कि यूपी में यादव के बाद कुर्मी का बड़ा वोट बैंक है. जिसपर अनुप्रिया का अच्छा प्रभाव है. ऐसे में कहा जा सकता है कि इसीलिए अपना दल का वजूद बढ़ाया जाए.