लॉकडाउन खुलने के बाद बढ़ती हुई भीड़ को देखते हुए केन्द्र ने राज्य सरकार को दिए सख्त निर्देश

कोरोना की दूसरी लहर के कहर ने जिस प्रकार से देश को हिला रखा है वो भूलने वाली बात नहीं है. कोरोना महामरी की दूसरी लहर की तीव्रता इतनी अधिक थी की कम से कम समय में ही बहुत अधिक लोगो को अपने चपेट में ले लिया. फिर एक समय ऐसा आया कि रोजाना कोरोना के मरीजों की संख्या चार लाख के पार आने लगी थी. लेकिन इसी के साथ अच्छी खबर ये है कि धीरे – धीरे ही सही कोरोना महामारी का कहर थमने लगा और कोरोना के कारण बिखरी हुई जिन्दगी फिर से पटरी पर लौटने लगी.

इसी के साथ ही कोरोना महामारी थमने के बाद राज्य सरकार द्वारा लगाये गये लॉकडाउन भी अनलॉक होने लगे. बता दें कि दुखी करने वाला खबर ये है कि कोरोना का इतना भयावह कहर देखने के बाद भी जैसे ही अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हुई लोग लापरवाही बरतने लगे. बाजारों में भीड़ बढ़ने लगी. बता दें कि कोरोना से बचाव के नियमों का पालन न करने पर ही केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को और केन्द्र शासित प्रदेशों को एडवाइजरी जारी की है.

बता दें कि जारी किये गये एडवाइजरी में कोरोना से जुड़ी गाइडलाइन को सख्ती से पालन करने की बात कही गई है. इसी के साथ ही गृह मंत्रालय ने भी यह आदेश दिया है कि राज्य और केन्द्र शासित प्रदेश पूर्ण रूप से यह सुनिश्चित करले कि लॉकडाउन खोलने की प्रक्रिया सावधानीपूर्वक हो और पुर्णतः व्यवस्थित हो. होम सेक्रेटरी ने कहा कि बढ़ती हुई भीड़ को रोकना आवश्यक है. नहीं तो फिर पुनः पूर्व की तरह स्थिति का सामना करना पड़ सकता है.