कांग्रेस पर उद्धव ठाकरे का करारा ह’मला ‘अकेले चुनाव लड़ने वालों को लोग जू’ते से…’

शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी ने महाराष्ट्र की सत्ता में आने के लिए आपस में समझौते तो कर लिए लेकिन उस समझौते पर टिके रहना उनके लिए मुश्किल साबित हो रहा है. इस महाविकास अघाड़ी की सरकार में कभी शिवसेना और एनसीपी के बीच महाभारत होती है तो कभी कांग्रेस और शिवसेना के बीच. इन दिनों कांग्रेस और शिवसेना के बीच महाभारत मची है. जब से कांग्रेस ने अकेले चुनाव लड़ने की बात की है तभी से शिवसेना लगातार उसपर हम’लावर है. अभी तक शिवसेना की तरफ से संजय राउत मोर्चा सँभालते थे. लेकिन इस बार खुद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस में तीखा हमला बोला है. ऐसा हमला जिससे कांग्रेस तिलमिला जायेगी.

कांग्रेस पर ये ताजा ह’मला शिवसेना प्रमुख और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शिवसेन के 55 वें स्थापना दिवस के अवसर पर बोला. उद्धव ने कहा, ‘कुछ लोग अपने बल पर चुनाव लड़ने की बात कर रहे हैं. कोरोना काल में हृदयविदारक स्थिति है. लोगों का रोजगार गया, रोजी-रोटी का संकट पैदा हो गया है. ऐसे में अगर कोई अकेले लड़ने की बात करेगा, तो लोग जू’तों से मा’रेंगे.’ गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले ही हाल ही में महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने अगले सभी चुनाव अकेले लड़ने की बात कही थी.

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शिवसेना स्थापना दिवस पर अपने संबोधन में हिंदुत्व और मराठी अस्मिता को पार्टी की पहली प्राथमिकता बताया है. साथ ही उन्होंने इशारों इशारों में कांग्रेस और एनसीपी को यह भी कहने से नहीं चूके कि वह सत्ता पर बने रहने के लिए कतई लाचार नहीं हैं. उद्धव ने कहने को तो ये कह दिया लेकिन वो कितने लाचार हैं ये वो खुद भी जानते हैं.