कैंसर सर्वाइवर डे के मौके पर सोनाली बेंद्रे और ताहिरा कश्यप को याद आए बीमारी से जंग के पल, शेयर की ये खास बातें

कैंसर सर्वाइवर डे के मौके पर सोनाली बेंद्रे और ताहिरा कश्यप को याद आए बीमारी से जंग के पल, शेयर की ये खास बातें

कैंसर सर्वाइवर डे के मौके पर सोनाली बेंद्रे और ताहिरा कश्यप को याद आए बीमारी से जंग के पल, शेयर की ये खास बातें

कैंसर एक प्राण घातक बीमारी हैं अगर आपको इसका समय से पता नहीं चलता तो यह आपकी जान ले लेता हैं। हां समय रहते अगर आप को कैंसर का पता चल जाए तो इसे हराया जा सकता हैं। 6 जून 2021 को 'कैंसर सर्वाइवर डे' (Cancer Survivor Day) मनाया गया। यह दिवस उन लोगो के लिए है जिन्होंने इस बीमारी से जंग जीत ली। बॉलीवुड में भी ऐसे कई सेलेब्स हैं जो इस बीमारी से जूझे हैं। कुछ ने इस पर जीत हासिल की तो कई इस बीमारी से लड़ते हुए अपनी जिंदगी हार गए। कैंसर को हराकर अपनी जिंदगी में वापस लौटी एक्ट्रेस सोनाली बेंद्रे (Sonali Bendre) और फिल्ममेकर ताहिरा कश्यप (Tahira Kashyap) ने 'कैंसर सर्वाइवर डे' के मौके पर इस बीमारी से हुई अपनी जंग को याद किया हैं। हाल ही में सोनाली और ताहिरा ने इस मौके पर सोशल मीडिया पर कैंसर से लड़ाई को याद करते हुए इमोशनल और मजबूत बनाने वाला एक मैसेज शेयर किया हैं। दोनो ही ने इस बीमारी के दौरान रही मानसिक स्थिती और अपनी इच्छा शक्ति के बल पर जीती हुई इस लड़ाई को लोगो के सामने रखा हैं।

सोनाली बेंद्रे ने अपने ट्विटर हैंडल पर इलाज से पहले और बाद की फोटो शेयर करते हुए लिखा कि उन्हें यह सच लगता है कि उनके जीवन का कठिन समय बीत चुका है। "समय कैसे बीत जाता है ... आज जब मैं पीछे मुड़कर देखती हूं, तो मुझे ताकत दिखाई देती है, मुझे कमजोरी दिखाई देती है लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि मैं सी शब्द को परिभाषित नहीं करने देना चाहती कि इसके बाद मेरी लाइफ कैसी होगी.." एक्ट्रेस ने आगे लिखा,"आप अपने द्वारा चुने गए जीवन का निर्माण करते हैं... जर्नी वही है जो आप इसे बनाते हैं … इसलिए याद रखें।" इसी के साथ उन्होंनें हैशटैग देते हुए 'वन डे एट ए टाइम' और 'स्विच टू सनशाइन' और 'कैंसर सर्वाइवर डे' लिखा है। 


वहीं ताहिरा कश्यप ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर कैंसर सर्वाइर डे के मौके पर एक स्टोरी शेयर की हैं। उन्होंने पीठ का एक स्कैच शेयर किया हैं जिस पर एक कट का निशान भी हैं। ताहिरा स्टोरी शेयर करते हुए लिखती हैं,  "एक निशान से कभी शर्मिंदा न हों। इसका सीधा सा मतलब है कि आप उस चीज से ज्यादा मजबूत थे, जिसने आपको चोट पहुंचाने की कोशिश की। हर किसी के पास निशान होते हैं- आप उन्हें देख सकते हैं या नहीं। इस गर्व से दिखाओ।" इसके साथ उन्होंने हैशटैग 'नेशनल कैंसर सर्वाइवर डे' भी लिखा है।

आपको बता दें कि सोनाली बेंद्रे और ताहिरा कश्यप दोनो को ही अपने कैंसर से पीड़ित होने की जानकारी साल 2018 में हुई। सोनाली को "हाई-ग्रेड कैंसर" था, जिसका इलाज न्यूयॉर्क में लगभग पांच महीने तक चला। वहीं ताहिरा को अपने कैंसर का पता जीरो स्टेज में ही चल गया था। ताहिरा को 'ब्रेस्ट कैंसर' था, जिसके लिए उन्हें मास्टेक्टॉमी प्रक्रिया से गुजरना पड़ा था।