'गदर' फिल्म की कहानी सुनकर डर गए थे गोविंदा, निर्देशक अनिल शर्मा ने बतायी फिल्म से जुड़ी खास बातें

गदर फिल्म की कहानी सुनकर डर गए थे गोविंदा डायरेक्टर अनिल शर्मा ने बतायी फिल्म से जुड़ी खास बातें

गदर फिल्म की कहानी सुनकर डर गए थे गोविंदा डायरेक्टर अनिल शर्मा ने बतायी फिल्म से जुड़ी खास बातें

'गदर-एक प्रेम कथा' (Gadar- Ek Prem Katha) फिल्म ने मंगलवार को 20 साल पूरे कर लिए। एक्टर सनी देओल (Sunny Deol) ने इस फिल्म से लाखों दिलों को जीता था। लेकिन कई खबरों के मुताबिक इस फिल्म के लिए डायरेक्टर अनिल शर्मा (Anil Sharma) की पहली पसंद गोविंदा (Govinda) और काजोल (Kajol) थे। निर्देशक अनिल शर्मा ने इन अफवाहों को लेकर अब खुलकर बात की है। अनिल शर्मा ने कहा कि गोविंदा को कभी तारा सिंह के रोल के लिए कभी फाइनलाइज नहीं किया गया था। हालांकि गोविंदा को सिर्फ फिल्म की कहानी सुनायी गयी थी। अनिल ने यह भी बताया कि काजोल अकेली ऐसी एक्ट्रेस नहीं थी जिन्हें फिल्म की फीमेल लीड के लिए अप्रोच किया गया था।

अनिल ने एक मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, "गोविंदा को 'गदर- एक प्रेम कथा' के लिए कभी साइन नहीं किया। मै उन्हें साल 1998 में महाराजा फिल्म में डायरेक्ट कर रहा था। उसी दौरन मैने गोविंदा को 'गदर- एक प्रेम कथा' की कहानी सुनायी थी। तो ऐसा नहीं था कि मैने उनको कास्ट किया था। बल्कि वो तो 'गदर- एक प्रेम कथा' की कहानी सुन कर डर गये थे।" उन्होंने आगे बताया, "वे सोच रहें थे कि कोई इस तरह और पैमाने की फिल्म को कैसे खींच सकता है। यह एक ऐसा समय था जिसमें पाकिस्तान को रिक्रिएट करने का कोई तरीका नहीं था। फिल्म के एक बड़े हिस्से को देखकर कोई भी इसे करने को राज़ी नहीं हुआ था। इसलिए सनी देओल हमेशा पहली पसंद थे।"

इसके बाद अनिल ने यह भी बताया कि उन्होंने सकीना के रोल के लिए कई एक्ट्रेस से संपर्क किया लेकिन कोई बात नहीं बनी। और आखिर में अमीशा पटेल (Ameesha Patel) को कास्ट कर लिया गया। एक अन्य मीडिया से बातचीत करते हुए अनिल ने कहा कि गदर का रीमेक उनके अलावा कोई और नहीं बना सकता है। उन्होंने आगे कहा कि आज भी वह ठीक वैसी ही फिल्म बना सकते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि अगर सनी नहीं तो तारा सिंह के रोल के लिए कोई छोटा धर्मेंद्र ही परफेक्ट रहेगा और अशरफ अली के रोल के लिए उन्होंने प्राण (Pran) को अपनी च्वाइस बताया।