लश्कर में सेना और आतंकियों के बीच चल रहे मुठभेड़ में एक आतंकी को सरेंडर करने के लिए सेना ने कुछ ऐसा कहा कि आतंकी तुरंत ही…

जम्मू – कश्मीर में आये दिन कहीं न कहीं आतंकियों के आतंक मचाने की खबर आती रहती है. हालांकि सेना के जज्बा जुनून के वजह से आतंकवादी हर बार अपने आतंक मचाने में असफल हो जाते हैं. फिर भी इन आतंकवादियों को ये बात समझ नहीं आती है ये बार-बार आतंक मचाने में लगे रहते हैं. इसी तरह से सेना भी आतंकवादियों को सबक सिखाने में माहिर है.

आपको बता दें कि बीते शुक्रवार को दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले के हांजीपोरा क्षेत्र में कुछ ऐसा देखने को मिला है कि जिसे देख कर हर किसी को सेना के ऊपर और भी अधिक विश्वास के साथ गर्व महसूस होगा. बता दें कि हांजीपोरा क्षेत्र में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में एक आतंकी मारा गया था और उस आतंकवादी का एक साथी छिप गया था. बता दें कि ऐसे छिपे हुए आतंकवादी को सरेंडर कराने के लिए सेना ने पूरी तरह से अपने सुझबुझ का प्रयोग किया है. सेना ने इस आतंकवादी को सरेंडर करने के लिए इसके साथियों समेत घरवालों का हवाला दिया.

बता दें कि पुलिस के मुताबिक आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादियों के उपस्थिति के बारे में जानकारी के आधार पर तलाशी अभियान शुरू किया गया था. जैसे ही सुरक्षा बल उस जगह पर पहुंचे वैसे ही छुपे हुए आतंकवादियों ने गोलाबारी करना शुरू कर दिया. इसके बाद सेना और आतंकवादियों में मुठभेड़ शुरू हो गया. इस समय एक आतंकवादी मारा गया और दूसरा छिप गया था. हालांकि सेना ने उसे भी पकड़ लिया है.