बाबा राम रहीम की बिगड़ी तबियत, अस्पताल में मिलने पहुँची ये महिला

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को रेप के मामले में जेल में डाल दिया गया है. जानकारी के मुताबिक पता चला है कि बाबा राम रहीम कोरोना संक्रमण से जूझ रहें हैं. अधिक तबियत बिगड़ने के बाद डेरा प्रमुख बाबा राम रहीम को सुनरिया जेल से पहले रोहतक पीजीआई और उसके बाद फिर गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में पहुंचाया गया. वहां उसका उपचार चल रहा है.

आपको बता दें कि खास बात ये है कि अस्पताल में डेरा प्रमुख बाबा राम रहीम से मिलने आई महिला का नाम हनीप्रित है. बता दें कि आज यानि सोमवार को सुबह में 8.30 बजे गुरुग्राम के उस अस्पताल में पहुँची जहाँ बाबा राम रहीम को भर्ती कराया गया है. हनीप्रित ने अस्पताल में पहुंचने के बाद अटेंडेंट के तौर पर अपना कार्ड बनवाया. हनीप्रित का अटेंडेंट कार्ड बनवाने का साफ मतलब ये है कि प्रतिदिन राम रहीम से मिलने का उसके कमरे तक पहुंचने का रास्ता साफ हो गया है.

बता दें कि अस्पताल की तरफ से बनाया गया यह अटेंडेंट कार्ड आने वाले 15 जून तक पूर्ण रूप से वैध माना जायेगा. जानकारी के अनुसार बता दें कि डेरा प्रमुख बाबा राम रहीम बीमारी हालत में दवा खाने और जाँच कराने से बहुत अधिक आनाकानी कर रहा था. सुनरिया जेल में बंद राम रहीम ने पेट में दर्द की शिकायत की थी. उस समय उसे इलाज के लिए पीजीआई ले जाया गया था. उसके बाद राम रहीम को गुरुग्राम के अस्पताल में पहुंचाया गया. राम रहीम की कोरोना का जाँच कराया गया था और रिपोर्ट पॉजिटिव पाया गया था. डेरा प्रमुख राम रहीम को अस्पताल के 9वीं मंजिल पर कमरा नंबर 4643 में रखा गया है.