बिहार में ये क्या हो रहा है? अब सिवान में मस्जिद के पीछे ध’माका, एक महीने में ये तीसरी वारदात

क्या बिहार में आ’तंकवा’द का कोई नया मॉड्यूल सक्रिय हो गया है? क्या बिहार को अस्थिर करने की कोशिश हो रही है? क्या बिहार में कोई बड़ी साजिश रची जा रही है? ये सवाल आज हर कोई पूछ रहा है बिहार में क्योंकि एक महीने में ब’म वि’स्फोट की तासरी वारदात हुई है. चिंता इसलिए भी बढ़ गई है क्योंकि पिछले 2 वि’स्फोट की गुत्थी भी अब तक नहीं सुलझ सकी है. पिछले 2 धमा’के बांका और दरभंगा में हुए थे. ये तीसरा धमा’का सिवान में हुआ है.

सिवान के हुसैनगंज थाना क्षेत्र के जुड़कन गांव में मस्जिद के पीछे जोरदार धमा’का हुआ है. इस धमा’के में एक शख्स और उसका बेटा गंभीर रूप से घाय’ल हो गए हैं. प्रारंभिक जांच में पुलिस ने कहा है कि यह ब’म ध’माका ही था. ब’म एक थैले में रखा हुआ था. पुलिस ने बताया कि रविवार दोपहर में विनोद मांझी अपने घर से कुछ दूरी पर जुड़कन मस्जिद के पीछे स्थित बथान में अपने बेटे के साथ काम कर रहे थे. तभी गांव का ही सगीर साईं नामक एक शख्स वहां आया और विनोद मांझी को एक थैला थमाते हुए कहा था कि एक घंटे में एक शख्स आएगा तो वह इसे उसे दे देना. सगीर साईं थैला थमाकर जैसे ही आगे बढ़ा वैसे ही उसमें ध’माका हो गया. धमा’के के बाद से ही सगीर साईं फरार है.

बांका मदरसा

इससे पहले 8 जून को बांका के एक मदरसा में जोरदार वि’स्फोट हुआ था जिसमे मदरसा पूरी तरह से ध्व’स्त हो गया था. इस मामले की जांच भी अभी तक चल रही है. उसके बाद दरभंगा रेलवे स्टेशन पर एक पार्सल में वि’स्फो’ट हो गया. पार्सल दरभंगा में मोहम्मद सुफियान के लिए था और उसपर पूरा पता भी नहीं लिखा था. पार्सल के अंदर से एक शीशी बरामद हुई थी. ये पार्सल एक स्पेशल ट्रेन से दरभंगा आया था.