तो क्या चली जाएगी मुकुल रॉय की विधायकी? शुभेंदु अधिकारी ने सबक सिखाने के लिए चल दिया बड़ा दाव

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की सरकार तो बन गयी है लेकिन वहां अभी सियासी हलचल जारी है. राज्य में ममता बनर्जी की सरकार बनने के बाद भाजपा में शामिल हुए TMC नेता अब फिर से अपनी घर वापसी करना चाह रहे हैं. अभी हाल ही में मुकुल रॉय ने भी भाजपा छोड़कर वापस से टीएमसी का ही दामन थाम लिया.

जानकारी के लिए बता दें टीएमसी में पहुंचे मुकुल रॉय को अब बीजेपी भी बड़ा झटका देने की तैयारी कर रही है. नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने ऐसा कदम उठाया है जिससे मुकुल रॉय की विधायकी रद्द हो सकती है. बीजेपी उनकी विधायकी छीनने में लग गयी है.

दरअसल शुभेंदु अधिकारी ने मुकुल रॉय को करीम नगर विधानसभा से अयोग्य ठहराने की मांग की है. इसके लिए उन्होंने विधानसभा स्पीकर को अर्ज़ी दी है और एमएलए के रूप में अयोग्य ठहराने की मांग की है. अगर ऐसा होता है तो मुकुल रॉय को बड़ा झटका लग सकता है.

ग़ौरतलब है कि भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी ने बताया था कि उन्होंने मुकुल रॉय को अयोग्य ठहराने के लिए काग़ज़ी कार्रवाई पूरी कर ली है. मुकुल रॉय बंगाल में हुए चुनाव में भाजपा के टिकट पर कृष्णानगर उत्तर सीट से विजयी हुए थे और 11 जून को उन्होंने टीएमसी का दामन थाम लिया.