Driverless कार का इंतेजार होगा खत्म, ये कंपनी जल्द ही ऑटो मार्केट में मचाएगी धमाल, जानें कब होगी लॉन्च

पहली ड्राइवरलेस कार

पहली ड्राइवरलेस कार

नई दिल्ली। दुनिया में ऑटो मार्किट में कंपनियों में आपस में ही होड़ मची हुई है। एडवांस फीचर्स से लेस कंपनियां मार्किट में नई से नई गाड़ियां ग्राहकों को लुभाने के लिए उतार रही हैं। ऐसे में अब स्मार्टफोन निर्माता कंपनी हुवावे ने भी ऑटो मार्किट में अपनी पकड़ मजबूत बनाने के लिए ऑटोमोटिव स्पेस में एंट्री कर ली है। इस चीनी कंपनी ने पुष्टि की है कि वह जल्द ही अपनी पहली ड्राइवर लेस कार को पेश करेगी। इस गाड़ी की सबसे खास बात ये होगी कि ये एक एडवांस फीचर्स से लेस कार होगी जिसे बिना ड्राइवर के भी चलाया जा सकेगा। साल 2025 तक लॉन्च किया जा सकता है। हुवावे दुनिया की सबसे बड़ी टेलीकम्यूनिकेशन कंपनी है जो पिछले कुछ सालों से ऑटो इंडस्ट्री में आने की तैयारी कर रही है।

ग्लोबल ऑटोमोटिव बिजनेस (Global Automotive Business) में काफी बदलाव आ रहा है, ऐसे में हुवावे ने इसे भांप लिया है और कंपनी को लगता है कि आनेवाले कुछ समय में ये इंडस्ट्री काफी अच्छा परफॉर्म करेगी। कंपनी ने अपनी साझेदारी को Chongqing Changan Automobile Co Ltd के साथ आगे बढ़ाया है। पिछले रिपोर्ट्स में भी ये पता चला था कि, कंपनी यहां दो चीनी ऑटो कंपनियों के साथ बातचीत कर रही है।

इस गाड़ी में ये होंगी खासियतें

ड्राइवरलेस टेक्नोलॉजी एक बेहद खास टेक्नोलॉजी है जिसपर फिलहाल बेहद कम ऑटो कंपनियां काम कर रही है। हुवावे स्मार्ट व्हीकल यूनिट के सीनियर एग्जीक्यूटिव वांग जून ने इंडस्ट्री कॉन्फ्रेंस में कहा कि हमारी टीम का लक्ष्य साल 2025 तक ड्राइवरलेस टेक्नोलॉजी तक पहुंचना है। हुवावे यहां स्मार्टफोन बनाने और बेचने के लिए जानी जाती है। लेकिन पिछले कुछ महीनों के भीतर डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन ने इंस कंपनी को अमेरिका में एक खतरे के रूप में देखा था जिसके बाद चीनी कंपनी का व्यापार वहां पूरी तरह ठप हो गया है। ऐसे में अब ऑटोमोटिव सेक्टर में कंपनी को काफी ज्यादा उम्मीद है।

ये और स्मार्टफोन कंपनियां उतारेंगी अपनी गाड़ियां

रिपोर्ट से ये भी पता चला है कि शाओमी (Xiaomi), ओप्पो (Oppo) और एपल (Apple) भी सेल्फ ड्राइव मॉडल्स पर काम कर रहे हैं। ऐसे में ये सभी कंपनियां फिलहाल ऑटोमोटिव सेगमेंट को टारगेट लेकर चल रही हैं। इसलिए ये कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि जिस तरह से वर्तमान में इन सभी कंपनियों के बीच स्मार्टफोन को लेकर टक्कर हो रही है तो वहीं आनेवाले समय में ये कार को लेकर एक दूसरे से भिड़ सकती हैं।