लोजपा में बगावत के बीच लोकसभा में LJP के नेता चुने गए पशुपति पारस, आगे क्या मोड़ लेगी बिहार की राजनीति

बिहार की राजनीति में एक बार फिर से भूचाल आ गया है. बता दें कि बिहार में अपनी जमीनी ताकत खो चुकी पार्टी LJP अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है. दरअसल बता दें कि दिवंगत राम विलास पासवान के भाई पशुपति पारस ने उनके बेटे चिराग पासवान के खिलाफ बगावत शुरू कर दी है.जिसकी वजह से अब चिराग अपनी ही पार्टी में अकेले हो गए है इतना ही नहीं पशुपति पारस के साथ पार्टी के 6 में से 5 सांसद खड़े हैं. जिस वजह से चिराग की परेशानी भी और बढ़ गयी है.

इसके अलावा बता दें कि LJP ने चिराग पासवान की जगह पशुपति पारस को लोकसभा में अपना नेता चुन लिया है.जानकारी के लिए बता दें कि सोमवार को पशुपति पारस ने अपने सांसदों के साथ जाकर लोक सभा स्पीकर ओम बिरला से मुलाकात की है और इस दौरान स्पीकर को LJP नेता के लिए पारस का लैटर सौंप दिया. जिसमें 6 में से 5 सांसदों का समर्थन है और इसके साथ ही पारस का वर्चस्व पार्टी पर कायम हो गया है.

इतना ही नहीं इसी के साथ अब ये लड़ाई सड़क तक पर आ गयी है. बता दें कि पार्टी में मची आपसी कहल के बीच बिहार की राजनीति में और क्या मोड़ आएगा. इसका पता भले ही आने वाले दिनों में पता चल जायेगा लेकिन पार्टी में फूट साफ़ तौर पर दिखाई दे रही है.