LJP में फूट के बाद चिराग पासवान का छलका दर्द, कहा ‘मेरे चाचा ने मेरी पीठ पर खंजर घोंपा’

बिहार में तेजी से बदलते राजनीतिक घटनाक्रम में दिवंगत राम विलास पासवान की पार्टी लोजपा टूट की कगार पर खड़ी है. दरअसल राम विलास पासवान के भाई पशुपति पारस के अपने ही भतीजे चिराग़ पासवान को एक के बाद एक बड़ा झटके दिए है. जिसकी वजह से अब चाचा भतीजे की जोड़ी में दरार पड़ गयी है.

वही दूसरी तरफ एक बार फिर से पार्टी में पड़ी दरार को देखते हुए चिराग पासवान का दर्द छलका है. जानकारी के लिए बता दें कि एक सहयोगी न्यूज़ चैनल से बात करते हुए चिराग पासवान ने कहा कि ‘मैं आखिर तक चाचा (पशुपति कुमार पारस) के दरवाजे पर खड़ा रहा. मेरी मां ने भी उन्हें छोटे भाई की तरह प्यार दिया.’ इसके साथ ही चिराग ने ये भी कहा कि ‘अगर चाचा को केंद्र में मंत्री बनना था तो वो मुझे बता सकते थे. मैं खुद प्रधानमंत्री जी के पास ये मांग लेकर जाता. एक बार वो कह देते तो मैं उन्हें राष्ट्रीय अध्यक्ष बना देता. मैंने आखिरी तक पार्टी को बचाने की कोशिश की.’

इतना ही नहीं आगे चिराग ने कहा कि ‘मेरे चाचा ने मेरी पीठ पर खंजर घोंपा है. मुझसे सिर्फ पांच सांसद और चार नेता अलग हुए हैं. ज्यादातर नेता मेरे साथ हैं’ इतना ही नहीं चिराग ने ये भी कहा कि मुझे नहीं पता कि मेरे परिवार ने मुझे क्यों धोखा दिया. जाहिर है कि पशुपति पारस के अपने ही भतीजे चिराग़ पासवान LJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद से हटा दिया. जिसके बाद से ही दोनों के बीच तनाव लगातार बढ़ता जा रहा है.