किसान आंदोलन के बीच खरीफ की फसलों के लिए MSP पर मोदी सरकार का बड़ा ऐलान

केंद्र सरकार द्वारा लाये गये कृषि कानूनों को लेकर देश के कुछ किसान राजधानी दिल्ली के बोर्डर पर आन्दोलन कर रहें हैं. उनका कहना हैं कि ये कृषि कानून किसानों के हित में नहीं हैं. हलांकि ऐसा नहीं हैं सरकार द्वारा उठाया गया ये कदम पूर्ण रूप से देश के हित में हैं. केन्द्र सरकार लगातार किसानों के हित में कार्य करने पर लगी हुई है. इसी कड़ी में आगे बढ़ते हुए केन्द्र सरकार ने किसानो की मदद करने के लिए बड़ा फैसला लिया है.

आईये जानते है केंद्र सरकार के फैसले के बारे में बता दें कि सरकार ने खरीफ फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी को अनुमति दे दी है. केन्द्र सरकार का ये बड़ा फैसला केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में लिया गया है. इस फैसले की जानकारी कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने दिया है. जानकारी देते हुए उन्होंने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में लगातार कृषि के क्षेत्र में किसानो की आमदनी बढ़ाने और खेती को फायदे का सौदा बनाने का निर्णय लिए जा रहें हैं.

बता दें कि कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने आगे बताया कि धान की एमएसपी में 72 रूपए की बढ़ोतरी की गई है. बढ़ोतरी करने के बाद 1868 रूपए प्रति क्विंटल से बढ़ कर के 1940 रूपए प्रति क्विंटल हो गया है और साथ ही बाजरा पर एमएसपी बढ़कर 2150 रूपए प्रति क्विंटल से बढ़कर 2250 रूपए प्रति क्विंटल किया गया है. कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि इन 7 वर्षों में किसान के पक्ष में बड़े फैसले लिए गये हैं ताकि किसानो की आमदनी बढ़ाई जा सके. उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं केंद्र सरकार दलहन और तिलहन का रकबा बढ़ाने पर भी विशेष कार्य कर रही है.