उत्तर प्रदेश में धर्म परिवर्तन की एक बड़ी साजिश का हुआ खुलासा, UP के एडीजी प्रशांत कुमार ने जानकारी देते हुए कही ये बात

UP में जहाँ एक तरफ अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर सियासत गरमाई हुई है. वही दूसरी तरफ UP से एक और बड़ी खबर सामने आ रही है. जानकारी के लिए बता दें कि उत्तर प्रदेश में धर्म परिवर्तन की एक बड़ी साजिश का खुलासा हुआ है. जिसके बाद से ही एक बार फिर से UP में सियासी हलचल और तेज़ हो गयी है.

बता दें कि यूपी एटीएस ने दिल्ली के जामिया नगर के रहने वाले दो लोगों को गिरफ्तार किया है. जो इस साजिश में शामिल थे. इतना ही नहीं यूपी एटीएस को धर्मांतरण के पीछे पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई की फंडिंग होने के भी सबूत मिले हैं. जिस पर अब UP के एडीजी प्रशांत कुमार ने प्रेस कांफ्रेस के दौरान जानकारी देते हुए बताया है कि 2 जून 2021 को डासना स्थित एक मंदिर में दो लोगों ने अवैध रूप से घुसने की कोशिश की थी जिस वजह से इस मामले में उनको हिरासत में लिया गया था और दोंनो आरोपियों के नाम विपुल विजयवर्गीय और काशिफ है.

इसके अलावा उन्होंने ये भी जानकारी देते हुए बताया कि दोनों से पूछताछ में पता चला कि ये एक बड़ा गेम है, जो कि लोगों का सुनियोजित तरीके से धर्म परिवर्तन करा कर और इसमें काफी प्रलोभन देकर पैसे वगैरह देने काम करता है. साथ ही अभी तक 1,000 लोगों का प्रलोभन देकर या डरा-धमका कर धर्म परिवर्तन कराया गया है. इतना ही नहीं इन लोगो ने दिव्यांग बच्चों और महिलाओं का भी धर्म परिवर्तन कराया गया है. साथ ही महिलाओं का धर्म परिवर्तन कराकर उनकी शादी दूसरे धर्म के लोगों से भी करवायी है ताकि बाद में इस चीज की कोई गुंजाइश न बचे कि वह वापस अपने धर्म में आ सकें. साथ ही देश के कई शहरों में ये रैकेट चलाया जा रहा है.