पंचायत चुनाव के बाद ब्लॉक प्रमुख चुनाव में भी भाजपा का जलवा, 825 में से 635 सीटों पर दर्ज की जीत, समाजवादी पार्टी की बुरी हार

ज्यादा दिन नहीं हुए जब उत्तर प्रदेश में हुए पंचायत चुनाव में भाजपा ने समाजवादी पार्टी को पटखनी देते हुए शानदार जीत हासिल की थी. अब ब्लॉक प्रमुख के चुनाव में भी वही परिणाम दोहराया है भाजपा ने. भारी हंगामे के बीच हुए ब्लॉक प्रमुख चुनाव में भगवा पार्टी से शानदार जीत हासिल की है. 825 सीटों के लिए हुए चुनाव में पार्टी ने 635 सीटों पर जीत दर्ज की. जबकि समाजवादी पार्टी को सिर्फ 70 सीटों से ही संतोष करना पड़ा. राज्य में 334 ब्लॉक प्रमुख निर्विरोध चुने गए. जबकि 476 सीटों पर मतदान कराये गए.

ब्लॉक प्रमुख के चुनाव में शानदार जीत के सीएम योगी बेहद खुश नज़र आये. उन्होंने कहा पीएम नरेंद्र मोदी ने आज से 7 साल पहले इस देश को सबका साथ सबका विकास का नारा दिया था. जो योजनाएं बनाई गई सब तक पहुंची भी. प्रदेश सरकार और संगठन ने योजनाओं को लोगों तक पहुंचाया. इसी का परिणाम है कि पंचायत चुनाव में भी पार्टी को शानदार सफलता हासिल हुई थी. सीएम ने कहा 825 में 735 ब्लॉक में बीजेपी ने अपने प्रत्याशी खड़े किए थे. कुछ जगह दोनों कार्यकर्ता बीजेपी के ही लड़ रहे थे. कुल 90 सीटें हमने छोड़ दी थी. अभी तक के रुझानों में 635 से अधिक सीटों में बीजेपी विजयी बन रही है. यह संख्या अभी और बढ़ेगी.

पश्चिमी यूपी जो किसान आन्दोलन से सर्वाधिक प्रभावित रहा, वहां भी भाजपा ने शानदार प्रदर्शन किया है. मुजफ्फरनगर के 9 ब्लॉक में से 8 में बीजेपी को जीत मिली. मेरठ के 22 ब्लॉक में से 12 सीट बीजेपी को जबकि सपा को 6 सीटें हासिल हुई. सहारनपुर ज‍िले में ब्लॉक प्रमुख की 11 सीटों में से 7 सीटें बीजेपी के खाते में गईं. आजमगढ़ जिले के 22 ब्लॉकों में 12 सीट पर भाजपा ने कब्ज़ा किया जबकि संपा को महज 5 सीटों से ही संतोष करना पड़ा. वाराणसी में आठों ब्लॉक पर बीजेपी और उसके सहयोगी दल ने जीत हासिल की. जबकि लखनऊ के 8 ब्लॉक में से 7 पर बीजेपी ने कब्ज़ा जमा लिया.