दिल्ली में रोहिंग्या कैंप पर चला योगी सरकार का बुल्डोजर, खाली कराई 97 करोड़ की जमीन

देश की राजधानी दिल्ली में सिंचाई विभाग की करोड़ों की जमीन को अवैध कब्जे से मुक्त कराया गया है. यूपी के सीएम योगी आदित्यानाथ के आदेश अनुसार गुरुवार सुबह करीब 4 बजे दिल्ली स्थित मदनपुर खादर में यूपी के सिंचाई विभाग ने बड़ी कार्रवाई की है, जिसमें करोड़ों रुपये की जमीन पर किए गए कब्जे को हटाया गया है। 

रिपोर्ट के अनुसार इस जमीन पर बांग्लदेश से आए हजारों रोहिंया शरणार्थियो ने अपना कब्जा कर लिया और यहां कच्चे व पक्के मकान बनाकर रहे थे. जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह व सीएम योगी के निर्देश देने पर हेडवर्क्स खंड आगरा नहर ओखला ने अभियान चलाकर 5.21 एकड़ जमीन को अतिक्रमण युक्त कराया है.

सिंचाई विभाग ओखला संगठन के अधिशासी अभियंता वीके सिंह ने गुरुवार को इसके बारे में जानकारी देते हुए कहा कि सिंचाई विभाग की भूमि पर रोहिंग्या कैंपों को हटाने के लिए मदनपुर खादर में सुबह करीब 4 बजे उनकी टीमें पहुंच गई थीं। दिल्ली के मदनपुर खादर में स्थित है इस जमीन का क्षेत्रफल 2.1080 हेक्टेयर है। इसकी कीमत 97 करोड़ के करीब बताई जाती है.

सोशल मीडिया पर भी एक वीडियो शेयर करते हुए जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ने एक बयान दिया था कि दिल्ली में इस जमीन से रोहिंग्या को मुक्त कराने के अरविंद केजरीवाल के साथ मीटिंग भी की थी उनके सहयोग से ये सब हो पाया. इसी तरह से सिंचाई विभाग की जितनी भी जमीन इनके कब्जे में है इन सभी को हटाया जाएगा.