काम की खबर : अब ATM से कैश निकालने पर कटेंगे अधिक पैसे, एक अगस्त से बदलने वाले हैं ये नियम

एटीएम कैश नियम

एटीएम कैश नियम

नई दिल्ली। लगता है अब महंगाई की चारों और से लोगों की परेशानियां बढ़ाने वाली है। कोरोना काल महामारी के बाद जैसे जैसे हाला सामान्य हो रहे हैं वैसे-वैसे बढ़ती महंगाई आम आदमी की कमर तोड़ रही है। जरूरी सामान के अलावा अब एटीएम (ATM) से कैश निकालना भी और महंगा होने वाला है। खाताधारकों के एटीएम से तय लिमिट से ज्यादा बार पैसे निकालने के बाद बैंक चार्जेज (Bank Charges) लगाने की तैयारी कर रहे हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank Of India) ने हाल ही में बैंकों को ऑटोमेटेड टेलर मशीन (Automated Teller Machine) पर चार्ज बढ़ाकर 21 रुपये प्रति ट्रांजेक्शन (Per Transaction) करने की अनुमति दी है। ये संशोधित दरें 1 जनवरी, 2022 से प्रभावी होंगी।

अभी अपने बैंक के एटीएम से कितनी बार कर सकते हैं ट्रांजेक्शन

खाताधारक अपने बैंक के ATM से हर महीने पांच फ्री ट्रांजेक्शन कर सकते हैं। इसमें वित्तीय (Financial) और गैर-वित्तीय ट्रांजेक्शन (non-financial transaction) दोनों शामिल हैं। इससे ज्यादा होने पर उन्हें हर ATM Transaction के लिए 20 रुपये की अतिरिक्त राशि का भुगतान करना होगा। कैश निकालने के लिए दूसरे बैंक के ATM का उपयोग करने वाले ग्राहकों के लिए मेट्रो सिटी में तीन और नॉन-मेट्रो सिटी (Non Metro City) में पांच फ्री एटीएम ट्रांजेक्शन की अनुमति है।

एक अगस्त से लागू होंगे ये नए नियम

जून 2019 में, RBI ने एटीएम ट्रांजेक्शन के Interchange Instructure पर विशेष ध्यान देने के साथ ATM Charges की समीक्षा करने के लिए एक समिति का गठन किया था। केंद्रीय बैंक ने एटीएम ट्रांजेक्शन की इंटरचेंज फीस हर Financial Transaction 15 रुपये से बढ़ाकर 17 रुपये और नॉन-फाइनेंसियल ट्रांजेक्शन के लिए 5 से बढ़कर 6 रुपये कर दिया। नई दरें 1 अगस्त, 2021 से लागू होंगी।